Rajasthan Weather : 27 जिलों में 3 मई तक भारी बारिश, मजबूत पश्चिमी विक्षोभ का असर, आंधी-ओलावृष्टि का येलो अलर्ट, जानें IMD पूर्वानुमान

Rajasthan Weather, IMD Rajasthan Weather : राजस्थान में मौसम का परिवर्तन जारी है। नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होते ही कई जगह मौसम के मिजाज में बदलाव देखने को मिला। तेज हवा के साथ कई स्थानों पर बारिश रिकॉर्ड की गई है। इसके साथ ही वज्रपात की भी चेतावनी जारी कर दी गई है। ओलावृष्टि से फसलों को एक बार फिर से नुकसान पहुंचेगा। तापमान में गिरावट रिकॉर्ड की गई है। वहीं मौसम विभाग के मुताबिक 28 से 2 मई तक राजस्थान में प्रचंड आंधी सहित बारिश और तेज हवा की गतिविधि जारी रहने वाली है।

मजबूत स्थिति में पश्चिमी विक्षोभ

राजस्थान मौसम विभाग के मुताबिक इस बार पश्चिमी विक्षोभ मजबूत स्थिति में है। जिसका व्यापक असर राजस्थान पर देखने को मिलेगा। इसके साथ ही प्रचंड आंधी का भी पूर्वानुमान जताया गया है। प्रदेश के कई जिलों में दोपहर बाद मौसम बदल गया है। कोटा संभाग में बारिश के साथ साथ ओलावृष्टि देखी गई है। आंधी से जनजीवन अस्त व्यस्त होने वाला है। इसके अलावा जिन क्षेत्रों में बारिश देखी गई है। उनमें झालावाड़ के खानपुर क्षेत्र के कंवरपुरा में तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि रिकॉर्ड की गई है। इसके अलावा पनवाड़ से सटे ओधपुर समेत अन्य इलाके में भी तेज बारिश और ओलावृष्टि देखने को मिली है।

20 से ज्यादा जिले में तेज बारिश और आंधी

रुक-रुक कर हो रही आंधी बारिश के कारण राजस्थान में फिर से अप्रैल में तापमान सामान्य से नीचे रिकॉर्ड किया गया है। जयपुर मौसम केंद्र के मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हुआ है। जिसके बाद दोपहर बाद दक्षिण राजस्थान के कोटा, उदयपुर और जोधपुर संभाग के कई हिस्से में गरज चमक के साथ तेज हवा चलने और बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। मौसम बदलने के साथ ही इस सिस्टम के असर के कारण गरज चमक की स्थिति भी देखने को मिलेगी। 27 अप्रैल से इस सिस्टम का असर बढ़ जाएगा। वही जोधपुर, बीकानेर, अजमेर, जयपुर, उदयपुर, कोटा संभाग सहित 20 से ज्यादा जिले में तेज बारिश और आंधी का अलर्ट जारी किया गया है।

तापमान में 4 से 6 फीसद की गिरावट

28 अप्रैल से 1 मई के दौरान इस सिस्टम का सर्वाधिक असर रहेगा। तेज गरज चमक के साथ 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज आंधी चलने काफी येलो अलर्ट जारी किया गया है। 28 अप्रैल के बाद तापमान में 4 से 6 फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जाएगी।

आंधी और बादलों की गर्जना सहित ओलावृष्टि

30 अप्रैल तक बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। इसके साथ ही तापमान में भारी गिरावट रिकॉर्ड की गई है। जयपुर में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने का भी पूर्वानुमान जताया गया है। हाडोती में अंदर बारिश और ओले से हड़कंप की स्थिति देखने को मिलेगी। वहीं कोटा बूंदी और झालावाड़ जिले के कई स्थानों पर आंधी और बादलों की गर्जना सहित ओलावृष्टि रिकॉर्ड की जाएगी।

इन जिलों में येलो अलर्ट

जिन जिलों में बारिश की चेतावनी जारी की गई है। उसमें जोधपुर,बीकानेर, अजमेर, जयपुर, उदयपुरऔर कोटा संभाग में गरज चमक की संभावना जताई गई है। तेज आंधी और हल्की बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। मौसम सिस्टम का सर्वाधिक असर 3 दिन रहने वाला है। इस दौरान गरज चमक के साथ बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया गया है। 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से क्षेत्रों में हवा चलने का भी पूर्वानुमान जताया गया है। लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। वज्रपात और ओलावृष्टि कभी येलो अलर्ट जारी किया गया है।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News