शिवसेना विधायक के बिगड़े बोल, कहा- कोरोना वायरस मिल जाता तो देवेंद्र फडनवीस के मुंह में डाल देता

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। महाराष्ट्र में कोरोना के बेकाबू हालात के बीच शिवसेना विधायक ने कहा है कि अगर उन्हें कोरोना वायरस मिल जाता तो वो उसे देवेंद्र फडनवीस के मुंह में डाल देते। कोरोना महामारी, रेमडेसिविर की जमाखोरी और महाराष्ट्र के बिगड़ते हालात के बीच शिवसेना विधायक की जुबान फिसल गई और उन्होने ये टिप्पणी कर डाली। इस इसके खिलाफ बीजेपी विरोध प्रदर्शन कर रही है।

कोरोना संक्रमण में मदद करने आगे आई भारतीय सेना, बनेगी मध्यप्रदेश सरकार की हमकदम

दरअसल ये सारा मामला रेमडेसिवीर का उत्पादन करने वाली एक दवा कंपनी के शीर्ष अधिकारी से दवा की कथित जमाखोरी को लेकर उठे विवाद का है। मुंबई पुलिस ने उस शीर्ष अधिकारी से जवा की जमाखोरी को लेकर पूछताछ की है। वहीं इस मामले में अब सत्तारूढ़ शिवसेना पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडनवीस पर निशाना साध रही है। बुलढाणा से शिवसेना विधायक संंजय गायकवाड़ ने जब पत्रकारों ने पूछा कि इस दौर में देवेंद्र फडनवीस मुख्यमंत्री होते तो वे क्या करते। इसके जवाब में गायकवाड़ ने कहा कि ऐसे कठिन समय में सरकार और मंत्रियों की मदद करने की बजाय बीजेपी नेता मंत्रियों का मजाक उड़ा रहे हैं और सरकार विफल करने की कोशिशों में हैं। इसके बाद गायकवाड़ ने कहा कि “इसलिये अगर मुझे कोरोना वायरस मिल जाता तो मैं उसे देवेंद्र फड़नवीस के मुंह में डाल देता।”

इसी के साथ शिवसेना विधायक ने आरोप लगाया कि बीजेपी नेता प्रवीण दारेकर और चंद्रकांत पाटिल इस महामारी के दौरान भी रेमडेसिवीर इंजेक्शन को लेकर तुच्छ राजनीति कर रहे हैं। उन्होने ये आरोप भी लगाया कि केंद्र ने महाराष्ट्र मे रेमडेसिवीर दवा निर्माता कंपनियों से कहा है कि वे यहां दवा की आपूर्ति न करें। बहरहाल, संजय गायकवाड़ की इस टिप्पणी के खिलाफ बीजेपी ने कड़ा विरोध किया है और कई जगह प्रदर्शन के साथ विधायक के पुतले भी जलाए गए।