Tokyo Olympic 2020 : सुनहरा गुरूवार, भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ओलंपिक में कांस्य पदक जीता

41 साल बाद ओलंपिक में जीता मैडल, पीएम मोदी ने दी बधाई

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। आज भारतीय हॉकी के इतिहास में एक सुनहरा दिन है जब टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पुरुष हॉकी टीम (Indian Hockey Team) ने जर्मनी को 5-4 से हराकर कांस्य पदक जीत लिया है। इस मैच में सिमरनजीत कौर ने दो गोल दागे। 41 साल बाद भारत ने पदक जीता है। इस जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी टीम को बधाई देते हुए कहा है कि ये ऐतिहासिक दिन है जो हर भारतीय की स्मृति में सदा के लिए अंकित हो गया है। हमें भारतीय टीम पर गर्व है।

Ratlam : कोरोना मुक्त हुआ रतलाम जिला, कलेक्टर ने की घोषणा

मैच में एक समय भारतीय टीम 1-3 से पिछड़ रही थी, लेकिन दूसरे क्वार्टर में टीम ने 3-3 की बराबरी पर ला दिया। वहीं तीसरे क्वार्टर में बढ़त बनाते हुए 5-3 तक पहुंचा दिया। हालांकि फिर जर्मनी ने एक गोल और किया लेकिन वह 5-4 की बढ़त से आगे नहीं जा सकी। मैच के आखिरी मिनिट में जर्मनी को पेनल्टी कॉर्नर मिला, लेकिन गोलची श्रीजैश ने इसे सफल नहीं होने दिया और इसी के साथ भारत का कांस्य पक्का हो गया।

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक में जर्मनी को 5-4 से हराकर कांस्य पदक पर कब्जा जमाया है। टीम ने ओलंपिक में 1980 के बाद पहली बार कोई पदक हासिल किया है। भारत इस मैच में एक समय 1-3 से पिछड़ रहा था, लेकिन इसके बाद उसने जबरदस्त वापसी कर जीत दर्ज की। भारत की तरफ से सिमरनजीत सिंह ने दो गोल दागे। रुपिंदर पाल सिंह, हार्दिक और हरमनप्रीत सिंह ने एक-एक गोल किया।