UP Weather : चक्रवात का प्रभाव, छाएंगे बादल, कई जिलों में हीट का अलर्ट, नए सिस्टम से बदलेगा मौसम, 15 जून के बाद बारिश के आसार, जानें पूर्वानुमान

cg weather

UP WEATHER ALERT : उत्तर प्रदेश में भी अरब सागर में उठे शक्तिशाली चक्रवात बिपरजॉय का असर देखने को मिल सकता है, इसके प्रभाव से मानसून में 2 दिन की देरी हो सकती है। वही कम दबाव का क्षेत्र बनने और पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से 14 जून से फिर मौसम के बदलने के आसार है। 15 व 16 जून को हल्की बारिश होने के संकेत है।प्रदेश में 22 जून से मानसूनी बारिश शुरू होने का अनुमान है, लेकिन इससे पहले कानपुर, लखनऊ, बरेली और वाराणसी समेत कई जिलों में हीट वेव का असर देखने को मिलेगा।

14-15 से दिखेगा मौसम में बदलाव

यूपी मौसम विभाग की मानें तो 14 जून से बरेली, पीलीभीत, बदायूं, शाहजहांपुर और आसपास के जिलों में मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा और कुछ जगह बूंदाबांदी होने की संभावना है। प्रदेश में 18 से 20 जून के बीच मानसून की दस्तक हो सकती है। उम्मीद है कि इस साल कोलकाता, पटना से होते हुए प्रयागराज के रास्ते यूपी में मानसून एंट्री हो सकता है। वही पश्चिमी यूपी में इसके 25 जून तक पहुंचने का अनुमान है।

22 जून के बाद मानसून की दस्तक

यूपी मौसम विभाग की मानें तोराजधानी लखनऊ में 22 जून से जुलाई तक बारिश का अनुमान जताया गया है। हालांकि, राजधानी में बिजरपॉय तूफान के असर के कारण बादलों छाए हुए है और 6 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। गोरखपुर में 21 जून से बारिश शुरू होने और 25 जून से तापमान में गिरावट के आसार है। वही 30 जून तक बारिश जैसी स्थिति के कारण तापमान 42 से गिरकर 35 डिग्री तक पहुंचने के संकेत है। नोएडा में 18 जून से बादल गहरा सकते हैं, वही 25 जून से बारिश होने के आसार है 28 जून के बाद से नोएडा में लगातार बारिश शुरू होने से तापमान में गिरावट होगी।

क्या कहता है मौसम विभाग का पूर्वानुमान

यूपी मौसम विभाग की मानें तो पछुआ हवाओं के चलते प्रदेश मे कहीं-कहीं वर्षा हो सकती है। अनुमान है कि 5 दिन बाद दक्षिणी-पश्चिमी हवाएं आने से वातावरण में नमी आ सकती है और कई जिलों में नम हवाओं का क्षेत्र बन सकता है, जिसके कारण कई जिलों में बारिश के आसार बनेंगे और आंधी के साथ तेज हवाएं भी चलेंगी। 16 जून तक लू चलेगी, हालांकि इस बीच कहीं कहीं बादल छाए रहेंगे और बूंदाबांदी होने का अनुमान है, वही 16 जून के बाद फिर से नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से बारिश का दौर देखने को मिलेगा।


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News