जबलपुर पुलिस की दादागिरी, दुकान संचालक के साथ की बदतमीजी और मारपीट, सराफा एसोसिएशन ने किया हंगामा

व्यापारियों की मांग है कि जबलपुर के  विजय नगर थाना पुलिस की महिला अधिकारी सहित अन्य सभी पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए और उन्हें तुरंत प्रभाव से निलंबित किया जाए। मामले को बढ़ता हुआ देखकर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने व्यापारियों को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया

जबलपुर, संदीप कुमार।जबलपुर में सोमवार की देर रात को विजय नगर थाना पुलिस ने सर्राफा बाजार में दीक्षा ज्वेलर्स में घुसकर दुकान की संचालिका भावना जैन और श्रेयांश जैन को गिरफ्तार करने का प्रयास किया।

विजय नगर थाना पुलिस का आरोप है कि इन्होने चोरी के गहने खरीदे हैं। इस दौरान पुलिस ने श्रेयांश जैन को दुकान से बाहर खींचने की कोशिश की और उनके साथ मारपीट की। हंगामा सुनकर उनकी पत्नी भावना जैन उन्हें बचाने आई तो पुलिस ने उनके साथ भी बदतमीजी की और मारपीट की। यह पूरी घटना सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई। इसके बाद दुकान के संचालक श्रेयांश जैन ने सराफा एसोसिएशन के पदाधिकारियों को फोन करके बुलाया। भीड़ बढ़ते हुए देखकर विजय नगर थाना पुलिस वहां से हट गई।

 

इधर सराफा एसोसिएशन ने विजय नगर थाना पुलिस की इस गुंडागर्दी के खिलाफ कोतवाली थाने के सामने जमकर प्रदर्शन किया और नारेबाजी की। देर रात को कोतवाली थाने के सामने सभी सराफा व्यवसाई इकट्ठा हो गए और उन्होंने विजय नगर थाना पुलिस के द्वारा की गई गुंडागर्दी का जमकर विरोध किया। काफी देर तक कोतवाली थाने के सामने व्यापारियों के द्वारा नारेबाजी की गई, बाद में कोतवाली पुलिस ने भावना जैन की शिकायत दर्ज कर ली ।

इधर व्यापारियों की मांग है कि  विजय नगर थाना पुलिस की महिला अधिकारी सहित अन्य सभी पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए और उन्हें तुरंत प्रभाव से निलंबित किया जाए। मामले को बढ़ता हुआ देखकर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने व्यापारियों को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया, इसके बाद मामला शांत हुआ है। मंगलवार को सराफा एसोसिएशन ने अपने पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है , जिसमें पुलिस के खिलाफ अगले कदम के संबंध में निर्णय लिया जाएगा।