आखिर क्या है उमा भारती के ट्विट के मायने

बीजेपी की कद्दावर नेता रही उमा भारती द्वारा दिल्ली विधानसभा चुनावों के परिणामों के बाद किये गए ट्विट ने राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है। दरअसल अपने ट्वीट में उमा भारती ने लिखा है ” दिल्ली विधानसभा चुनाव का संदेश, डेढ़ साल में विभिन्न राज्य में विधानसभाओं के चुनाव फिर उसके बाद हुए लोकसभा चुनाव और हाल की कुछ महीनों में हुए राज्यों के विधानसभा चुनावों के परिणाम साफ बता रहे हैं कि कि भाजपा में भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समकक्ष कोई नेता नहीं।” दूसरे ट्वीट में उमा लिखती हैं “पूरे देश की जनता मोदी जी को तथा मोदी जी पूरी देश की जनता को आत्मसात कर चुके हैं। छत्रपति मोदी जिंदाबाद।”

अब यह तो साफ है कि विधानसभा दिल्ली के चुनाव में बीजेपी का जिस तरह से सूपड़ा साफ हुआ है और यह चुनाव सीधे-सीधे भाजपा और आम आदमी पार्टी की प्रतिष्ठा का सवाल बन गया था,उमा भारती कहीं ना कहीं यह व्यंग्य कर रही है कि भाजपा में अब मोदी के अलावा कोई क्षत्रप नहीं। यानी वह बीजेपी जिसमें एक समय नेताओं की भरमार हुआ करती थी, अब मोदी के अलावा उसके पास कोई चेहरा ही नहीं। एक समय मोदी की कटु आलोचक रही उमा भारती के इस बयान के मायने तो वही जाने लेकिन फिलहाल बीजेपी के खेमे में इस बयान को लेकर फिलहाल हलचल है।