Dhan Rajyog : ग्रहों की युति से 50 साल बाद बना ‘धन राजयोग’ इन राशियों की बदलेगी किस्मत, मिलेगा नौकरी, धन-संपत्ति का लाभ, आय में वृद्धि

rajyog

Astrology, Dhan Rajyog 2023 : अप्रैल महीने में कई ग्रह नक्षत्रों ने अपने स्थान परिवर्तन किए हैं। ग्रह नक्षत्रों की युति के साथ ही कई राजयोग का भी निर्माण हुआ है। कई बार कुछ राशि पर राज्यों के महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ते हैं। इसके साथ ही एक बार फिर से धन राजयोग का निर्माण हो रहा है। जातकों के जीवन में धन धन राजयोग काफी लाभकारी साबित होने वाले हैं। आइए जानते हैं राजयोग किन राशियों के लिए बेहतरीन साबित होने वाला है।

वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रह नक्षत्रों की युति में कई शुभ योग का निर्माण हो रहा है। इनमें से एक है, धन राजयोग। धन राजयोग की प्राप्ति कराने वाले योग है। 6 अप्रैल से धन राजयोग का निर्माण हो चुका है और हर राशि के लोगों के जीवन पर धन राज्यों के अलग-अलग प्रभाव नजर आ रहे हैं।

धन राजयोग का निर्माण 

जन्म कुंडली के दूसरे घर को वित्त के घर के रूप में जाना जाता है और ग्यारहवें घर वित्तीय लाभ का घर होता है। ऐसे में दोनों घरों के बीच के संबंध को धन राजयोग माना जाता है। लग्न कुंडली में द्वितीय भाव पंचम भाव नवम भाव और एकादश भाव और उनके स्वामी कुंडली से जुड़ा हो तो धन राजयोग का निर्माण होता है। इसके साथ ही कुंडली में द्वितीय भाव का स्वामी एकादश भाव में और एकादश भाव के स्वामी द्वितीय भाव में हो, तभी धन योग का निर्माण होता है। हालांकि धन राजयोग का सबसे अधिक फायदा 3 राशियों को मिलने वाला है। आइए जानते हैं कौन सी है वह 3 राशियां

वृषभ राशि

वृषभ राशि वाले को धन राज्यों का लाभ मिलने वाला है और इसके साथ ही उनके अच्छे समय की शुरुआत हो चुकी है। दरअसल उनके कुंडली का स्वामी दशम भाव में है। साथ ही 6 अप्रैल को शुक्र उनके लग्न भाव में प्रवेश कर चुका है। ऐसे में कुंडली में शश मालव्य और लक्ष्मी योग का निर्माण हो रहा है। इससे एक तरफ जहां उनके आय में बढ़ोतरी होगी। इसके साथ ही उन्हें नौकरी पेशा के नए अवसर मिलेंगे। साथ ही उनके रोजगार में भी तरक्की के योग बनते नजर आ रहे हैं।

मकर

मकर राशि वाले को धन राज्यों का लाभ मिलेगा। शुक्र द्वारा विकसित धन राजयोग मकर राशि वाले के लिए लाभदायक सिद्ध हो सकता है। 6 अप्रैल को शुक्र का भाग्य भाव में आना शुभ है। इस दौरान नौकरी में तरक्की मिलने के साथ ही प्रमोशन के आसार बनते नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही उन्हें वेतन वृद्धि का लाभ मिलेगा। धन, वाणी और संपत्ति काफी लाभ मिलेगा। दरअसल शनि धन वाणी, संपत्ति के दृष्टि गोचर कुंडली के भाव में विराजमान है, ऐसे में मकर राशि वाले को भी लाभ मिलना है।

कुंभ

कुंभ राशि वाले को धन राजयोग का लाभ मिलेगा। दरअसल शुक्र के प्रभाव से कुंभ राशि के लिए धन राजयोग का निर्माण हुआ है। यह राजयोग कुंडली के लिए काफी भाग्यशाली साबित होने वाले हैं। बता दे कि शुक्र कुंभ के चौथे भाव में विराजमान हैं। ऐसे में भाग्य के स्वामी होने के कारण कुंभ राशि को लाभ देने वाले हैं। इनके उपस्थिति से आगमन के योग बनेंगे। इसके साथ ही उनके वेतन वृद्धि की संभावना बन रही है। आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी। छिपी हुई प्रतिभा का विकास होगा।

धन राजयोग के प्रभाव

  • लग्न का स्वामी दसवें भाव में हो तो जातक अपने माता-पिता से अधिक धनवान होते हैं।
  • केतु को 11वें भाव में रखा जाए तो जातक विदेश भ्रमण पर जा सकते हैं।
  • कुंडली के दसवें भाव क स्वामी वृषभ तुला और शुक्र में आ जाए तो पत्नी की कमाई में वृद्धि होती है।
  • सातवें घर में शनि और मंगल हो तो जातक को खेल के माध्यम से लाभ मिलता है।
  • जातक की कुंडली में सूर्य, 5वें घर में, चौथे में मंगल और 11वें में गुरु हो तो पैतृक संपत्ति से लाभ मिलेगा।

नोट : यहां दी गई जानकारी सामान्य ज्ञान पर आधारित है, इसे अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह आवश्यक है।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News