छत से टपक रहे पानी के कारण T20 मैच देख रहे दर्शकों को हुई असुविधा, BCCI को झेलनी पड़ी आलोचना|

रविवार (19 जून) की रात को बैंगलोर के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुए पांचवे और अंतिम टी20 मैच के बारिश में धुल जाने से भारतीय प्रशंसक निराश हुए।

खेल, डेस्क रिपोर्ट। पिछले दो मैच जीतने के बाद  भारतीय टीम फिर से फॉर्म में नजर आ रही थी और प्रसिद्द एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में हो रहे पांचवे और अंतिम मैच में भी अपनी पकड़ दिखा चुकी थी, लेकिन बारिश ने उस मैच को धो दिया। खेल के केवल 3.3 ओवर शेष बचे थे।

यह कोई नई बात नहीं कि बारिश ने किसी मैच को रद्द किया हो, बात यहाँ उस स्टेडियम की हो रही है, जहाँ दर्शक दीर्घा बैठ कर खेल का आनंद ले रही थी, तभी बारिश हुई, और दर्शकों के ऊपर की छत से पानी का रिसाव किसी झरने की तरह होंने लगा, जिसे देख उन्हें निराशा हुई।

यह भी पढ़ें – सौरव गांगुली ने BCCI के अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा? नया अध्याय शुरू करने की है तैयारी

प्रशंसकों में से एक ने छत से भारी बारिश से भर चुकी छत से रिसते पानी की कुछ तस्वीरें भी सोशल मिडिया पर पोस्ट कीं और बीसीसीआई (BCCI) और केएससीए (KSCA) को टैग करते हुए पूछा कि “जिस तरह का यह खेल पूरे विश्व में अपनी पहचान और प्रसिद्धि रखता है, उसके हिसाब से दर्शकों के लिए यहाँ कोई व्यवस्थित व्यवस्था पर कार्य कब किया जायेगा?”

यह भी पढ़ें – BCCI: जय शाह 2024 तक रहेंगे ACC के प्रेसिडेंट, पंकज खिमजी बनाए गए नए Vice President

विशेष रूप से, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) भारतीय प्रीमियर लीग के मीडिया अधिकारों को INR 48340 करोड़ में बेचने से पहले, क्रिकेट की दुनिया में सबसे अमीर बोर्ड में से एक है। बीसीसीआई प्रमुख सौरव गांगुली ने हाल ही में कहा था कि “बोर्ड इंडियन प्रीमियर लीग के मीडिया अधिकारों की बिक्री से उत्पन्न धन का उपयोग बेहतर बुनियादी ढांचे के विकास के लिए कर रहा है और वे राज्य संघों को भी बड़ी राशि आवंटित करेंगे”। साथ ही उन्होंने कहा, “हम इस पर निश्चित रूप से काम करेंगे और दर्शकों की सुविधा का खासा ध्यान रखते हुए एक बेहतर बुनियादी ढाँचे पर काम करेंगे। बहुत सारे नए स्टेडियम भी बने हैं, और इस देश में क्रिकेट बहुत अधिक लोकप्रिय है। उसकी इस लोकप्रियता को ध्यान में रखते हुए स्टेडियम में खेलने के साथ बेहतर दर्शक व्यवस्था पर भी काम किया जायेगा”।