कलेक्टर आफिस के बाहर भाजपा सांसद का जोरदार प्रदर्शन, सिंधिया के खिलाफ लगे नारे

अशोकनगर। हाल ही में हुए ग्राम पंचायतों के परिसीमन की प्रक्रिया में अनियमितता को लेकर विरोध दर्ज कराने भाजपाई अपने सांसद के पी यादव के नेतृत्व में  कलेक्ट्रेट पंहुचे तो उन्हें प्रशासन ने अंदर नहीं घुसने दिया। अंदर नहीं जाने देने पर नेताओ ने कलेक्टर डॉक्टर  मंजू शर्मा  को ज्ञापन लेने के लिए  बाहर बुलाने  की मांग को लेकर सड़क पर बैठ कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं कलेक्टर डॉ मंजू शर्मा  के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान पूर्व सांसद एवं कोंग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ भी नारे लगाये गये। कुछ नेताओं ने अर्धनग्न होकर प्रदर्शन भी किया ।काफी देर तक कलेक्ट्रेट से सामने चक्का जाम किया गया आखिर में अपर कलेक्टर को ज्ञापन दिया।

ग्राम पंचायतों के परिसीमन में अनियमितताओं को लेकर सांसद डॉक्टर के पी यादव ने आरोप लगाया अशोकनगर प्रशासन ने पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के कहने पर नियम विरुद्ध परिसीमन किया है।बीजेपी सांसद ने आरोप लगाया कि जिले के तीनों कांग्रेस विधायकों को बैठाकर मनमानी तरीके से पंचायतों का परिसीमन किया गया है। इसमें सरकारी मापदंडों का पालन नहीं किया गया। ना ही दावे आपत्तियों का निराकरण किया। डॉक्टर के पी यादव ने यह भी आरोप लगाया पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के हस्तक्षेप से जिला प्रशासन एक तरफा कार्रवाई कर रहा है। उनका कहना है कि न केवल अशोकनगर जिले में बल्कि पूरे क्षेत्र में बड़ा आंदोलन किया जाएगा। 

बीजेपी के पूर्व घोषित कार्यक्रम को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने कलेक्ट्रेट परिसर को छावनी में तब्दील कर दिया था। इस कारण किसी को कलेक्ट्रेट में अंदर नहीं घुसने दिया। ज्ञापन के लिए भाजपाइयों की मांग थी कि कलेक्टर को बुलाया जाए, मगर ज्ञापन अपर कलेक्टर ने ही लिया हालांकि बाद में कुछ देर के लिए कलेक्टर डॉ मंजू शर्मा  बाहर मिलने जरूर आई।

"To get the latest news update download the app"