बीजेपी के 'आरोप पत्र' पर गरमाई सियासत, कांग्रेस ने चुनाव आयोग और पुलिस में की शिकायत

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव के बीच 4 महीने की कमलनाथ सरकार के खिलाफ आरोप पत्र जारी किया है। जिसमें कर्जमाफी के नाम पर किसान और रोजगार के नाम पर युवा एवं सुरक्षा के नाम पर प्रदेश की जनता को ठगने का आरोप लगाया है। बीजेपी ने आरोप लगाया कि सरकार ने अपने अल्प कार्यकाल में प्रदेश में त्राहि-त्राहि मचा दी है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा समेत अन्य नेताओं ने आज प्रदेश भाजपा कार्यालय में कांग्रेस के खिलाफ आरोप पत्र जारी किया है। इसको लेकर प्रदेश की सियासत गरमा गई है| कांग्रेस ने इस पर आपत्ति जताते हुए सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है| भाजपा के आज जारी आरोप पत्र के खिलाफ कांग्रेस ने चुनाव आयोग में शिकायत की साथ ही एमपी नगर थाने में भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे, प्रभात झा व अन्य नेताओं के खिलाफ शिकायती आवेदन देकर मामला दर्ज करने की मांग की है | 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने बताया कि भाजपा ने आज अपना आरोप पत्र जारी किया हैं। आज जारी भाजपा का आरोप पत्र झूठ का पुलिंदा है। इसमें जितने भी आरोप लगाए गए हैं सब झूठे ,मिथ्या ,बेबुनियाद व प्रमाण रहित है। इसमें एक भी आरोप सच नहीं है। भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ,प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे ,पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा व भाजपा के अन्य पदाधिकारियों द्वारा इसे जारी किया गया। 

सलूजा ने बताया इस आरोप पत्र में किसानों की कर्ज माफी से लेकर ,प्रदेश में बिजली की उपलब्धता को लेकर ,युवाओं के रोजगार को लेकर ,पिछड़े वर्ग के आरक्षण को लेकर ,सामाजिक सुरक्षा पेंशन को लेकर , कन्या विवाह व निकाह की राशि को लेकर, गौशाला के निर्माण को लेकर , भावंतर योजना को लेकर ,तीर्थ दर्शन योजना को लेकर ,गेहूं खरीदी केंद्र को लेकर , तेंदूपत्ता मजदूरी की राशि को लेकर , आयकर छापों को लेकर जमकर झूठ परोसा गया है। 


सरकार की छवि धूमिल करने का आरोप, थाने में की शिकायत 

इस आरोप पत्र के मुखपत्र पर मुख्यमंत्री कमलनाथ जी के फोटो का चित्रण बड़े ही आपत्तिजनक ढंग से किया गया है। साथ ही इस आरोप पत्र में मुख्यमंत्री व सरकार को लेकर तमाम झूठे आरोप लगाए गए हैं। मुख्यमंत्री को लेकर अशोभनीय ,अमर्यादित टिप्पणी इस आरोप पत्र में की गई है।आयकर छापों को लेकर झूठे आरोप लगाए गए हैं। इस आरोप पत्र के माध्यम से भाजपा कांग्रेस सरकार की छवि धूमिल करने का प्रयास कर रही है। जनता को भ्रमित कर गुमराह करने का प्रयास कर रही है। इसको लेकर कांग्रेस ने आज प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांता राव से मिलकर भाजपा नेताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज कर इन झूठे , अप्रमाणित आरोपों पर इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। साथ ही एमपी नगर थाने में भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे ,प्रभात झा सहित अन्य भाजपा नेताओं के खिलाफ आरोप पत्र में लगाये झूठे आरोपों पर प्रकरण दर्ज करने की मांग की। 

 

"To get the latest news update download the app"