बावरिया ने राज्यपाल आनंदी बेन को बताया पीएम मोदी का एजेंट

गुना। मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को अभी कार्यभार संभाले एक महिना भी पूरा नहीं हुआ कि विपक्ष ने उन पर हमले करना शुरु कर दिए है। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी  दीपक बावरिया ने राज्यपाल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एजेंट बताया है। बावरिया के बयान के बाद से ही राजनैतिर सरगर्मियां बढ़ गई है। बयान को लेकर बवाल मचा हुआ है। 


दरअसल, 24  फरवरी को मप्र के कोलारस और मुंगावली में उपचुनाव होने वाले है, जिसकों लेकर प्रदेश प्रभारी दौरे कर रहे है। इस सिलसिले में वे आज गुना पहुंचे जहां उन्होंने भाजपा और मप्र की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि सीएम शिवराज पर नजर रखने के लिए पीएम मोदी ने आनंदी बेन को RAW और CBI की तरह एजेंट बनाकर मध्यप्रदेश भेजा है। अब आगे आनंदीबेन को मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। इसके पीछे कारण यह है कि 2014 चुनाव में आडवाणी ने शिवराज को प्रधानमंत्री का चेहरा बताया था। भाजपा में सीएम पद के लिए गुटबाजी है, सीएम पद कब्जाने के लिए भाजपा से 4-5 नाम सामने आए हैं। यह बात में यूं ही नहीं बल्कि तथ्यों के आधाऱ पर कह रहा हूं।


इसके साथ ही हेमंत कटारे मामले में बावरिया ने कहा कि राजनीतिक षडयंत्र के तहत हेमंत को फंसाया जा रहा है। मप्र में अब तक 4500 से ज्यादा रेप केस का निराकरण नहीं हो पाया है। हेमंत के मामले में की सीधी कार्रवाई की जानी चाहिए।