लोकसभा चुनाव : कमलनाथ ने कहा- दो दिन में जारी होगी प्रत्याशियों की पहली सूची

भोपाल| लोकसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दलों ने प्रत्याशियों के चयन को लेकर तैयारियां तेज कर दी है| चुनाव का बिगुल बजते ही पार्टियां अब प्रत्याशियों का ऐलान करेंगी| मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों की पहली सूची जल्द ही जारी होगी|  मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रविवार को मीडिया से बात करते हुए बताया कि आने वाले दो दिनों में कांग्रेस की पहली सूची जारी हो जाएगी।

कमलनाथ के विधानसभा चुनाव लड़ने के चलते छिंदवाड़ा सीट खाली होगी, यहां से कौन उम्मीदवार होगा इसको लेकर चर्चा चल रही है| वहीं कमलनाथ ने इस बारे में कहा इसका फैसला कांग्रेस चुनाव समिति करेगी। हालांकि उन्होंने ये साफ किया है कि वो छिंदवाड़ा विधानसभा सीट से विधानसभा का उपचुनाव लड़ेंगे।  बता दें कि कमलनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से माना जा रहा है छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से उनके बेटे नकुलनाथ लोकसभा का चुनाव लड़ सकते हैं। उनका नाम यहां से तय माना जा रहा है| 


12 प्रत्याशियों पर सहमति

लोकसभा चुनाव के लिए मप्र में कांग्रेस के 12 प्रत्याशियों के नाम पर लगभग सहमति बन गई है। गुरुवार को दिल्ली में एआईसीसी के संगठन प्रभारी महासचिव केसी वेणुगोपाल की अध्यक्षता में स्क्रीनिंंग कमेटी की बैठक में यह सहमति बनी। बैठक में मुख्यमंत्री कमलनाथ भी मौजूद थे। इस बैठक में गुना से ज्योतिरादित्य सिंधिया, रतलाम-झाबुआ से कांतिलाल भूरिया, छिंदवाड़ा से नकुलनाथ, ग्वालियर से प्रियदर्शनी राजे सिंधिया, मंदसौर से मीनाक्षी नटराजन, धार से गजेंद्र सिंह राजूखेड़ी, खंडवा से अरुण यादव, मुरैना से रामनिवास रावत, शहडोल से हिमाद्री सिंह और सागर से प्रभुसिंह ठाकुर के नाम सामने आए हैं। इसके अलावा पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह का नाम दो सीटों सतना व सीधी और भाजपा से कांग्रेस में आए पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया का नाम खजुराहो व दमोह से आया है। कुसमरिया के दमोह से लड़ने की संभावना ज्यादा है। बैठक में कमलनाथ के सर्वे के आधार पर कांग्रेस पर्यवेक्षकों द्वारा सुझाए नामों पर चर्चा की गई। भोपाल, इंदौर, जबलपुर सहित अन्य सीटों पर स्क्रीनिंग कमेटी की अगली बैठक में विचार किया जाएगा। स्क्रीनिंग कमेटी में नाम तय होने पर उन्हें केंद्रीय चुनाव समिति को भेजा जाएगा। वहीं से इन नामों पर अंतिम मुहर लगेगी। एक दो दिन में कांग्रेस पहली सूची जारी कर देगी| 


प्रदेश की 29 सीटों में से सिर्फ तीन पर कांग्रेस के सांसद :

प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से अभी केवल तीन पर कांग्रेस के सांसद हैं। इनमें छिंदवाड़ा से कमलनाथ, गुना से सिंधिया और रतलाम से भूरिया सांसद हैं। कमलनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद छिंदवाड़ा से उनके बेटे नकुलनाथ का नाम आया है। कमलनाथ छिंदवाड़ा संसदीय सीट से 9 बार सांसद रहे हैं। इस बार मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के कारण वो लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। वहीं, छिंदवाड़ा विधायक दीपक सक्सेना ने कमलनाथ के लिए अपनी सीट से इस्तीफा दे दिया है। जिसके बाद कमलनाथ विधानसभा का उपचुनाव छिंदवाड़ा से लड़ेंगे।

"To get the latest news update download tha app"