साधु बनकर 21 साल तक नर्मदा घाट पर रहा रेप का आरोपी, गिरफ्तार

जबलपुर। मध्यप्रदेश के जबलपुर में पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने एक शातिर अपराधी को नर्मदाघाट से गिरफ्तार किया है। वह साधु के रुप में बीते 21 साल से माँ नर्मदा के ग्वारीघाट में रह रहा था। पुलिस ने बताया कि आरोपी 1996 से फरार चल रहा था।

पुलिस के मुताबिक पनागर पुलिस ने रविवार को 21 साल से फरार शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया है। वह  1996 में रेप, लूट, चोरी और कई अन्य अपराध कर फरार चल रहा था। पुलिस का आंखों में धूल झोंककर आरोपी ने साधु का रुपधारण कर लिया और बीते 21 साल से साधु बनकर  मां नर्मदा के ग्वारीघाट पर रह रहा था। इस दौरान आरोपी अपनी पहचान छिपाकर अलग अलग जगह निवास करता रहा। 

दर्शल पुलिस को सूचना मिली की एक साधु जो कि अपने कई नाम बता कर ग्वारीघाट में सालों से रह रहा है आरोपी मूलता कुसनेर का रहने वाला है। जिसने की 1996 में थाना हनुमान ताल में रेप केस किया।1998 में चोरी के प्रकरण में यह फरार हुआ। इन दो सालों में आरोपी ने कई जघन्य अपराधों को अंजाम दिया और अपने आपको पुलिस से छिपाने के लिए नर्मदा तट पर जाकर बन गया साधु। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।