बाघ की दहशत से जान बचाने छतों पर चढ़े लोग, 8 घंटे की मशक्कत के बाद पकड़ाया


रायसेन|दिनेश यादव| मध्य प्रदेश के रायसेन जिले के बाड़ी नगर क्षेत्र के सिरवारा गांव में बाघ दिखने से ग्रामीणों में दहशत फेल गई| वन विभाग की टीम ने करीब आठ घंटे की मशक्कत के बाद बाघ को बेहोश कर पकड़ लिया।  लोगों ने बाघ को खेतों में चहलकदमी करते देखा इसके बाद गांव में अफरा तफरी मच गई| डर के मारे लोग घरों में बंद हो गए तो कुछ छतों पर चढ़ गए| वहीं बाघ की खबर फैलते ही गांव में मजमा लग गया| वन विभाग को इसकी सूचना दी गई, ग्रामीणों की सूचना के बाद वन अमला मौके पर पहुंचा | जिसके बाद बाघ को रेस्क्यू करने के लिए भोपाल से वन विभाग की विशेष टीम भेजी गई  । 

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार सिरवारा में सुबह गाँव के लोगों ने बाघ को देखा, खेतों में और गाँव के नजदीकी क्षेत्र में बाघ की आमद से ग्रामीणों में दहशत फेल गई| लोग डर के मारे छतों पर चढ़ गए| बाड़ी कस्बे से महज तीन किमी दूर सिरवारा के बबलू आदिवासी के धान के खेत में सुबह करीब 8 बजे बाघ नजर आया। यह खेत आबादी के पास ही है। इससे ग्रामीणों में दहशत फैल गई। कुछ ग्रामीणों ने मोबाइल से उसके फोटो लेकर पुलिस और बाड़ी रेंजर को सूचना दी। रेंजर ने भोपाल में वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित किया। तब तक यहां पुलिस और बाड़ी से वन विभाग की टीम आ गई। बाघ काफी देर तक गांव में भागता रहा। शाम करीब चार बजे टीम ने बाघ को बेहोश किया। फिर उसे पकड़कर भोपाल ले गई। 




"To get the latest news update download the app"