भोपाल को दो हिस्सों में बांटना "फूट डालो और शासन करो" की साजिश है: शिवराज

भोपाल| भोपाल को दो हिस्सों में बांटने केसरकार के फैसले के खिलाफ भाजपा अब खुलकर विरोध में उतर आई है| इस बटवारे के खिलाफ बीजेपी सड़कों पर उतरेगी और हस्ताक्षर अभियान चलाएगी| भोपाल के मानस भवन में दो अलग-अलग नगर निगम बनाए जाने के कमलनाथ सरकार के प्रस्ताव के विरोध में आयोजित बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसका कडा विरोध करते हुए कहा जब देश में चेन्नई, बेंगलुरु, हैदराबाद जैसे बड़े महानगरों में एक ही नगर निगम है, फिर भोपाल नगर निगम का बंटवारा करने की ज़रूरत सरकार को क्यों पड़ी| 

उन्होंने कहा  जैसे लॉर्ड कर्ज़न ने जैसे बंगाल को हिन्दू-मुस्लिम जनसंख्या के आधार पर बांट दिया था। ऐसी ही कुत्सित मानसिकता कांग्रेस की है, जो राजा भोज की नगरी के दो टुकड़े करने की साजिश रच रही है। मीडिया से बातचीत में शिवराज ने कहा कि लार्ड कर्जन ने 1906 में सांप्रदायिक आधार पर बंगाल का विभाजन किया था। उसका जबरदस्त विरोध हुआ था। बाद में बंग भंग के खिलाफ हिंदुस्तानियों ने आंदोलन चलाया, जिससे अंग्रेजों को झुकना पड़ा। यही कुत्सित मानसिकता कांग्रेस की आज दिखाई दे रही है। भोपाल नगर निगम को बांटना "फूट डालो और शासन करो" की साजिश है। 

वहीं, महापौर आलोक शर्मा ने कहा है कि हम शहर के एक-एक घर पर जाकर इस निगम को दो भागों में बांटने के फैसले का विरोध करेंगे। बटवारे के खिलाफ हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा। इस बैठक में पूर्व मेयर कृष्णा गौर, उमाशंकर गुप्ता सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

"To get the latest news update download the app"