Breaking News
जब मध्य प्रदेश की मंत्री को महंगा पड़ा था अंबानी का विरोध | MP: कांग्रेस-बसपा गठबंधन की संभावना बरकरार, हो सकता है गुप्त समझौता | SC-ST एक्ट पर BJP में फूट: शिवराज के ऐलान से नाराज उदित राज, दे डाली यह नसीहत | दर्दनाक हादसा: दो कारों की भिड़ंत में जनपद सीईओ समेत 4 लोगों की मौत | कैसे पूरी होगी शिवराज की यह घोषणा | कांग्रेस की उम्मीदों पर फिर पानी, बसपा ने जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची | डंपर काण्ड: CM के खिलाफ याचिका खारिज, SC ने कहा-'चुनाव लड़ना है तो मैदान में लड़ें, कोर्ट में नहीं' | बीजेपी विधायक का आरोप, सवर्ण आंदोलन के लिए हो रही विदेशी फंडिंग | व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! |

किसानों की खामोशी पर सरकार अपनी पीठ न थपथपाए : कक्का जी

मंदसौर

एक जून से चल रहे गांव बंद आंदोलन का आज आठवां दिन है। आज  मंदसौर के दलोदा क्षेत्र में किसान मजदू संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवकुमार कक्का जी द्वारा श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया है, जिसमें भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा और विश्व हिन्दू परिषद के पूर्व अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया शामिल होंगें। इसके साथ ही जम्मू कश्मीर के राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष हमीद मलिक, संदीप गिरडे, प्रकाश पांडे, विकास बांगे, सुरेश विष्ठ, वीरसिंह, अभिमन्यु गुहार दालौदा में मृत किसानों को श्रद्धांजलि देंगे।

गुरुवार शाम को मंदसौर पहुंचे कक्का जी ने मीडिया से चर्चा के दौरान भाजपा पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि किसानों की खामोशी पर सरकार अपनी पीठ न थपथपाए। किसानों का सम्मान किसी भी कीमत पर गिरने नहीं दिया जाएगा।यह तो हमारे संगठन का अनुशासन था कि किसान को सड़क पर नहीं आने दिया। 

उन्होंने कहा कि 18 सूत्रीय मांगों में स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशें महासंघ की मुख्य मांग है। इसके अलावा मंदसौर संघ की ओर से 6 मांगों को सरकार से पूर्ण करना हमारा लक्ष्य है। जब तक ये मांगें पूरी नहीं हो जातीं हम हर स्तर पर संघर्ष करते रहेंगे। 8 अगस्त से अन्नदाता बचाओ आंदोलन का शंखनाद भारत छोड़ो आंदोलन की ऐतिहासिक तिथि से मंदसौर से होगा। जहां किसानों का पसीना बहेगा, वहां हमारा खून बहेगा। किसानों के साथ अन्याय व अत्याचार अब हम किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे।आंदोलन के दौरान गांव-गांव तक पहुंचकर अपने अधिकारों से रूबरू करवाया जाएगा।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...