शिवपुरी: जैन समाज ने किया सिंधिया का बहिष्कार, सपाक्स दिखायेगा काले झंडे

शिवपुरी| एट्रोसिटी एक्ट को लेकर मध्य प्रदेश में विरोध तेज होता जा रहा है, प्रदेश और केंद्र में बीजेपी की सरकार होने के बाद भी कांग्रेस सांसदों और विधायकों को भी इसका विरोध झेलना पड़ रहा है| अब गुना-शिवपुरी के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के बहिष्कार की चेतावनी दी गई है| सिंधिया शुक्रवार को शिवपुरी दौरे पर आ रहे हैं, जहां कई कार्यक्रमों में सिंधिया शामिल होंगे| लेकिन सपाक्स समाज संगठन ने घोषणा की हैं कि सांसद सिंधिया के शिवपुरी आगमन पर पुरजोर विरोध किया जाऐगा। वहीं जैन समाज ने सिंधिया का बहिष्कार किया है और उन्हें सवर्ण विरोधी बताया है| 

सपाक्स के सचिव हरिशंकर दुबे ने बयान जारी कर कहा है कि सांसद सिंधिया के शिवपुरी आगमन पर पुरजोर विरोध करेंगे, जब सपाक्स समाज के मौलिक अधिकारो का हनन वाल कानून पारित किया जा रहा था तब सांसद सिंधिया ने संसद में मौन धारण कर लिया था। इससे यह सिद्ध् होता हैं कि सिंधिया सपाक्स समाज के हितैषी न होकर केवल वोट बैंक मानते हैं। उन्होंने कहा इस काले कानून की प्रताडना में आने वाला सपाक्स समाज को भी ऐसी प्रतिनिधि की कोई आवश्यकता नही हैं।  सांसद सिंधिया का सपाक्स समाज विरोध स्वरूप काले झंडे दिखाऐगा और सांसद सिंधिया को शिवपुरी में नही घुसने दिया जाऐगा।

जैन समाज ने किया सिंधिया का बहिष्कार, सवर्ण विरोधी बताया  

दरअसल, जनउत्थान समिति की ओर से पर्युषण पर्व के दौरान 22 सितंबर को रात्रि में सम्मान समारोह एवं रात्रि भोजन का आयोजन किया गया है| इस आयोजन का जैन समाज ने बहिस्कार कर दिया है| उनका कहना है इस कार्यक्रम में सांसद सिंधिया को भी आमंत्रित किया गया है जो कि सवर्ण समाज के विरोधी हैं, पर्युषण पर्व के दौरान जैन समाज के लोग रात्रि में पानी भी ग्रहण नहीं करते हैं, ऐसे में रात्रि भोज का आयोजन किया जाना बहुत ही निंदनीय कार्य है,  हम इसका बहिष्कार करते हैं| 

तीन दिन के दौरे पर सिंधिया 

सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 21 सितम्बर से क्षेत्र के तीन दिवसीय दौरे पर आ रहे हैं, इस दौरान सांसद सिंधिया माधवराव सिंधिया स्वास्थ्य सेवा मिषन द्वारा आयोजित स्वास्थ्य शिविर में उपस्थित होंगे साथ ही जिले में कई सड़कों का भूमिपूजन कर क्षेत्रवासियों को सौगात देंगे। हालांकि सपाक्स का विरोध सिंधिया की मुश्किलें बढ़ा सकता है|