Tata Nexon EV फेसलिफ्ट इस दिन होगी भारत में लॉन्च, Mahindra XUV400 को देगी टक्कर, जानें फीचर्स

Manisha Kumari Pandey
Published on -

Automobile News: टाटा मोटर्स भारत में नई Tata Nexon EV Facelift और Tata Nexon फेसलिफ्ट लॉन्च करने के लिए तैयार है। 14 सितंबर को दोनों कारों की लॉन्चिंग होने वाली है। जल्द ही नई इलेक्ट्रिक कार नए फीचर्स और डिजाइन के साथ भारत के सड़कों पर दौड़ती नजर आयेगी। हालांकि कंपनी ने अबतक दोनों एसयूवी से संबंधित जानकारी आधिकारिक तौर पर साझा नहीं की है। लेकिन इनके फीचर्स लीक हो चुके हैं।

डिजाइन

नई टाटा नेक्सन ईवी के इंटीरियर डिजाइन को लेकर अधिक जानकारी सामने नहीं आई है। लेकिन कहा जा रहा है इसका डिजाइन काफी हद्द तक ICE मॉडल जैसा होगा। वहीं लुक Harrier EV की याद दिला सकता है। वहीं नेक्सॉन फेसलिफ्ट में नए डैशबोर्ड, टच-बेस्ड HVAC कंट्रोल पैनल, पहले से ज्यादा स्लिम AC वेंट्स, 10.25 इंच टचस्क्रीन, दो नए स्पोक स्टीयरिंग और एक डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर मिल सकता है। बता दें कि कंपनी नेक्सॉन का दूसरा मेजर फेसलिफ्ट मॉडल और नेक्सॉन ईवी का पहला फेसलिफ्ट मॉडल ला रही है।

पावरट्रेन

इलेक्ट्रिक कार के पावरट्रेन से संबंधित जानकारी का भी खुलासा होने में अभी वक्त है। नेक्सॉन फेसलिफ्ट में 1.2 लीटर ट्यूर्बो पेट्रोल इंजन और 1.5 लीटर डीजल इंजन मिल सकता है। पेट्रोल वेरिएन्ट में 4 गियरबॉक्स मिलने की संभावना है। वहीं डीजल वेरिएन्ट में 6 गियरबॉक्स उपलब्ध हो सकते हैं।

कीमत और राइवल

दोनों ही कारों की कीमत पिछले मॉडल से अधिक होगी। नई Nexon ईवी फेसलिस्ट मार्केट में Mahindra XUV400 को टक्कर देगी। वहीं Nexon फेसलिफ्ट का मुकाबला Mahindra XUV300, मारुति सुजुकी फ्रॉन्क्स, किआ Sonet और Renault Kiger से होगा।


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News