जनसंपर्क सचिव की सलाह- कमलनाथ की PC में मौजूद सभी पत्रकार खुद को करें क्वारंटाइन

218

भोपाल।

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में बीते दिनों तत्कालीन सीएम कमलनाथ की पीसी में पहुंचे पत्रकार के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मीडियाकर्मियों में हड़कंप मच गया है।खबर के बाद कई नेताओं और पत्रकारों ने खुद को आईसोलेट कर लिया वही कई अब भी इस बात से अनजान है, इसके चलते जनसंपर्क सचिव पी नरहरी ने 20 मार्च को तत्कालिन सीएम की प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद सभी पत्रकारों को क्वारंटाइन करने की नसीहत दी है।

दरअसल 20 मार्च को हुई कमलनाथ की प्रेस कांफ्रेंस में संक्रमित पत्रकार के संपर्क में आने से पत्रकार वार्ता में मौजूद सभी लोगों को खुद को 14 दिन के लिए घर में आइसोलेट होने की सलाह दी गई है। प्रदेश के जनसंपर्क सचिव पी नरहरि ने मीडिया कर्मी को हिदायत दी है कि जो भी 20 मार्च को सीएम हाउस में मौजूद थे। वह जितनी जल्दी हो सके खुद को अपने घरों में क्वॉरेंटाइन कर लें। जनसंपर्क सचिव ने सलाह देते हुए कहा है कि घर में रहते हुए भी वे सभी लोग अपने परिवार के लोगों से दूरी बनाए रखें। साथ ही साथ जनसंपर्क सचिव पी नरहरि ने 0755-270-4201 नंबर जारी करते हुए बताया है कि किसी भी जानकारी या आवश्यकता के लिए वह इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। साथ ही यदि पत्रकार वार्ता में मौजूद लोगों के अंदर कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाते हैं तभी उनकी जांच की जाएगी। इसलिए 14 दिनों के लिए वे सब घर पर ही रहें और अपने आप का ध्यान रखें। वहीं इससे पहले भोपाल के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डेहरिया ने बताया कि जो भी लोग संक्रमित पत्रकार के संपर्क में थे उन्हें सलाह दी गई है कि वह 14 दिन के लिए घर में रहे और अपने परिवार के सदस्य से भी दूरी बनाए रखें। यदि इन दिनों में उन्हें खासी, ठंड और बुखार जैसे लक्षण दिखे तो वह कोरोना की जांच अवश्य करवाएं।

गौरतलब हो के मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस से पीड़ित की संख्या बढ़कर 20 हो गई है। साथ ही उज्जैन की एक महिला की इंदौर में इलाज के दौरान इस संक्रमण से मौत हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here