इंदौर: अमानवीय कृत्य के बाद आगे आए अभिनेता सोनू सूद, इंदौरवासियों से की ये अपील

मैं आपके साथ हूँ आइये पूरे देश के लिए एक एग्जाम्पल सेट करे धन्यवाद।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। कोरोना काल और लॉक डाउन मे देशभर के लोगो की मदद कर उन्हें उनके आशियानों तक पहुंचाने में मदद करने वाले फ़िल्म अभिनेता सोनू सूद अब इंदौर के बेसहारा और बेघर बुजुर्गों की मदद करेंगे। सोशल मीडिया पर सोनू सूद ने बाकायदा एक वीडियो संदेश के जरिये इंदौर में शुक्रवार को हुए अमानवीय कृत्य पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने सरकार और नगर निगम का नाम लिए बगैर कहा कि मैं अपने सभी इंदौरवासी भाई बहनों से गुजारिश करूंगा कि मैंने कल एक न्यूज देखी थी जहां पर बुजुर्गों को इंदौर शहर की सीमा से बाहर रखने के लिए एक प्रयत्न किया गया था।

मैं आप सबसे ये ही कहूंगा कि मैं और आप सब मिलकर इन्हें छत देने की एक कोशिश करनी चाहिए। मैं बुजुर्गों को उनका हक दिलाना चाहता हूं और उनके सिर पर छत दिलाना चाहता हूं। वही उनके खाने पीने का प्रबंध और ध्यान रखने के प्रबंध की कोशिश करना चाहता हूं और ये सबकुछ इंदौरवासियों के साथ के बिना मुश्किल है। सोनू सूद ने कहा कि मैं कोशिश करूंगा कि उन्हें उनका हक और छत मिल पाए।

Read More: नगरीय निकाय चुनाव : कांग्रेस विधायक बोले- मैं ही लडूंगा चुनाव, जिलाध्यक्ष बोले- इस्तीफा दें

वही सोनू सूद ने ऐसे बच्चो से गुजारिश की है कि जितने बच्चे उनके माँ – बाप को अलग छोड़ देते है उनके लिए एक सीख होनी चाहिए कि आप अपने माँ – बाप को साथ रखे उनका ध्यान रखे।सोनू ने आगे कहा कि आइये हम सब मिलकर इंदौरवासियों के साथ एक ऐसा उदाहरण सेट करे ताकि दोबारा बड़े बुजुर्ग कभी भी अकेला महसूस न करे। मैं आपके साथ हूँ आइये पूरे देश के लिए एक एग्जाम्पल सेट करे धन्यवाद।

सोनू सूद की ये बाते उनकी दरियादिली और लोगो के प्रति समर्पण और सेवा भाव को दिखाता है लेकिन इंदौर में बुजुर्गों के शहर निकाले की घटना ने सभी का दिल दहला दिया है और उसी का परिणाम है कि बगैर सरकार की मदद के सोनू सूद आम जनता के साथ बुजुर्गों के जीवन को संवारने के लिए आगे आ रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here