ASHOKNAGAR UPDATE : कल तक पसरा था सन्नाटा, आज बाजारों में उमडी भीड़

344

अशोकनगर|हितेंद्र बुधोलिया

40 दिन के लॉकड़ाउन(lockdown) के बाद ग्रीन जोन(green zone) में आए अशोकनगर जिले में कुछ दुकानों को छोड़ कर लगभग पूरा बाजार खोल दिया गया। बाजार खुलते ही लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा, कल तक सुनसान बाजार भीड़ से भर गया। कल तक सोशल मीडिया पर बाजार खोलने की मांग सबसे बड़ी चर्चा थी।बाजार खुलते ही भीड़ एवं कोरोना का भय सोशल मीडिया(social media) का सबसे बड़ा विषय बन गया। लंबे समय के बाद आज से बाजार खोलने का फ़ैसला लिया गया था।जिसके तहत सुबह 9 बजे से 4 बजे तक बाजार खोलने के आदेश जारी किये गये थे। मगर आज पहले दिन जैसे ही बाजार खुला तो लोग बाजार में उमड़ पड़े।काम के अलावा बाजार को देखने एवं घूमने बालो की संख्या भी बहुत ज्यादा दिखी।

इस दौरान ना तो लोगों मे कोरोना संक्रमण(corona infection) के लिये जारी किये गये सोशल डिस्टेंसिग का पालन किया और ना ही दुकानों को जारी किये गये दिशा निर्देशों का पालन किया गया। यह दोनों मुद्दे सोशल मीडिया(social media) पर छाए रहे।लोगो ने इस छूट का गलत फायदा उठाने के लिये लोगो को आड़े हाथों लिया। भीड़ को नियंत्रण करने के लिये बाजार को इस तरह खोले जाने के फैसले पर फिर से विचार किये जाने की मांग की जा रही है। कोरोना(corona) संक्रमण की भयावहता के संदर्भ में बहुत से लोग कई नए सुझाव भी दे रहे है।जिनमे बाजार की सभी दुकानों को एक साथ ना खोले जाने की मांग की है। भीड़ को नियंत्रण करने के लिये रोस्टर से दुकानों को खोले जाने की मांग की जा रही है।

अभी तक जिला ग्रीन जोन में है कोई भी कोरोना का मरीज नही है यह भीड़ पर नियंत्रण के कारण हुआ है। मगर आज की भीड़ ने लोगो ने मन ने चिंताये भर दी है।कुछ सकरे बाजरो की गलियों में तो भीड़ के कारण जाम के हालात बन गए।दुकानों पर दो गज की दूरी एवं 5 से कम लोगो की मौजूदगी का भी कई जगह उल्लंघन हुआ है।मोटर साइकिल पर एक से जायदा लोग खूब निकले।प्रशासन के सामने कल की बैठक में भी इस तरह की अव्यवस्था की संभावना पर चिंता व्यक्त की थी।इसके बाद बैठक में तय हुआ था कि आगे की परिस्थियों को देखते हुये नई व्यवस्थाओ पर विचार किया जा सकता है।आज की भीड़ को देख कर लगता है कि प्रशासन को सख्ती करना ही पड़ेगी।आज भी कई दुकानदारों को समझाइस दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here