राजधानी में फिर Corona ब्लास्ट, वरिष्ठ IAS की पत्नी-बेटे समेत 117 की रिपोर्ट पॉजिटिव

महिला बाल विकास विभाग

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

एमपी में कोरोना(Corona) का कहर जारी है अगस्त की शुरुआत से ही राजधानी(Capital) में लगातार संक्रमण(infection) के मामले तेज हो गये हैं। प्रतिदिन 100 से अधिक संख्या में मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव(positive) आ रही है। शनिवार को राजधानी में 153 नए पॉजिटिव मरीज मिले थे। जिसमें प्रदेश के एक वरिष्ठ आईएएस ऑफिसर(IAS Officer) की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव(report positive) आई है। प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे(sanjay dubey) की रिपोर्ट कोरोना संक्रमित आई थी। दो दिन पहले उनका स्वास्थ्य खराब उन्होंने कोरोना टेस्ट(corona test) कराया था। अब इस मामले में वरिष्ठ आईएएस की पत्नी और बेटे की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है इसी के साथ भोपाल में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 8540 पहुँच गई है।

दरअसल रविवार को राजधानी में कोरोना के 117 नए पॉजिटिव मरीज मिले। नए पॉजिटिव मामले में ओल्ड जिला जेल से 3 कैदियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। कल 2 संक्रमित मिलने के बाद आज फिर Eme सेंटर से एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित निकला है। ईंटखेड़ी थाने दो जवान कोरोना संक्रमित निकले। एक बार फिर 7वी बटालियन से एक जवान कोरोना पॉजिटिव निकला है। जबकि जीएमसी से एक डॉक्टर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है बिजली कालोनी कॉलसेंटर सेमरा से एक कर्मचारी कोरोना संक्रमित निकला है। इधर डी मार्ट होशंगाबाद रोड से एक कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। पालीवाल अस्पताल से एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित निकला। वहीँ जहांगीराबाद से 2 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले। भोपाल के सबसे संक्रमित इलाके इब्राहिमगंज से एक व्यक्ति पॉजिटिव निकला है। पूजा कालोनी नीलबड़ से 1 व्यक्ति संक्रमित पाया गया। अमराई बागसेवनिया से एक ही परिवार के दो लोगों संक्रमित आए हैं। समासगढ़ से 8 लोग कोरोना संक्रमित निकले। वहीँ ग्राम गोल से 2 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अरेरा कालोनी से दो लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है जबकि इंडस्ट्रियल गेट गोविंदपुरा से 4 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

बता दें कि स्वतंत्रता दिवस पर भी प्रदेश में बड़ा कोरोना के बड़े मामले सामने आए थे। मध्यप्रदेश में दूसरी बार 24 घंटे के अंदर एक हजार से अधिक लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसके साथ ही एमपी में भी कुल संक्रमितों की संख्या 44433 हो गई है। जबकि राजधानी में लॉकडाउन(lockdown) के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी देखी गई है।