साइकिल यात्रा: भ्रष्टाचार के विरुद्ध CM शिवराज से मिलने निकला युवक

देवास।सोमेश उपाध्याय

आम तौर पर लोग साईकल से अपनी सेहत को दुरस्त करने के लिए निकलते है।या प्रायः धार्मिक यात्रा पर निकलते है।परन्तु आज देवास शहर से निकले एक साईकल यात्री अनोखी माँग के साथ धार जिले के कुक्षी से निकला है।जो कि सीएम हॉउस भोपाल तक जाएगा।दरअसल युवक राजेंद्रसूरी शाख सहकारिता मर्यादित बैंक प्रधान कार्यालय राजगढ़ जिला धार के ठगे गए जमाकर्ताओं की राशि तत्काल दिलाने के लिए भोपाल जा रहा है!

इनके द्वारा बताया गया कि श्री राजेंद्रसूरी साख सहकारिता मर्यादित बैंक में आवर्ती जमा बचत जमा फिक्स डिपाजिट योजना में लोगों ने राशि जमा कराई थी। जमाकर्ताओं ने यह राशि अपने सुरक्षित भविष्य व बच्चों की पढ़ाई एवं उनके भरण-पोषण, बीमारी व बच्चों की शादी जैसे अति आवश्यक कार्यों के लिए जमा की थी। लोगों द्वारा जमा राशि निकालने के लिए विगत वर्षों से विभिन्न शाखाओं पर चक्कर लगाते रहे हैं। परंतु जब बैंक शाखाएं चालू थी तब उपस्थिति कर्मचारियों द्वारा बैंक में पैसा नहीं होना। जिम्मेदार व्यक्ति नहीं होने के बहाने बनाने पर जमाकर्ताओं को दौडाते रहे। खातों की जानकारी व लिखित में जवाब मांगने पर भी किसी प्रकार का संतोषजनक जवाब नहीं दिया जा रहा था।

बैंक के संचालक मंडल अध्यक्ष द्वारा बैंक के सभी खातेदारों को दिसंबर 2018 तक आंशिक राशि लौटाने का वचन दिया था। परंतु दिसंबर आते-आते बैंक के कर्मचारियों का शाखा में आना बंद हो गया और कुछ समय बाद बैंक शाखाओं के ताले खुलना भी बंद हो गए थे। इसको लेकर जमा कर्ताओं ने थानों पर आवेदन देकर प्रकरण दर्ज करने की मांग की थी। जिसके बाद पुलिस थानों पर प्रकरण दर्ज भी हुए हैं निश्चित रूप से प्रशासन ने इस मामले को सक्रियता से देख कर अपने हाथों में लिया प्रशासनिक कार्यवाही भी की किंतु आज दिनांक तक बैंक की शाखाओं में जमा पैसा कई खाताधारकों को अब तक नहीं मिला। जिस तरह प्रशासन ने बैंक के जिम्मेदारों पर शुरुआती दौर में कार्रवाई कर सक्रियता दिखाई थी। उसे आगे बढ़ाते हुए जमा कर्ताओं को पैसा लौटा देते तो कोरोना महामारी जैसी विकट परिस्थिति में काम आ जाता इस महामारी के कई लोगों को प्रभावित किया है। बैंक के जमाकर्तओ की भी आर्थिक स्थिति लॉकडाउन के दौरान बिगड़ी और कई परेशानियों का सामना करना पड़ा। यदि इस विकट परिस्थिति में खुद का जमा पैसा भी इन्हें मिल जाता तो आर्थिक संकट से जूझना नहीं पड़ता।

इस परिस्थिति में आप से निवेदन है कि शासन प्रशासन बैंक के संचालकों पर कारवाही जारी रख फिलहाल राजेंद्र सुरी बैंक के जमाकर्ताओं के खुद की गाड़ी कमाई के रुपए को भी तत्काल राहत देने हेतु शासन अपने खजाने से पैसे लौटा कर इनकी परेशानियों को दूर करें। इसी मांग को लेकर सोमेश्वर पाटीदार सामाजिक कार्यकर्ता दिनांक 12 जुलाई 2020 रविवार को कुक्षी के मां गायत्री मंदिर से साईकिल यात्रा कर संबंधित बैंक के समस्त शाखा क्षेत्रों से होते हुए भोपाल पहुंचेंगे वहां पर यह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से इस मामले में मिलकर उन्हें अवगत करवाकर खाताधारकों को तत्काल उनके खातो मे जमा राशि के रुपए को खाते मे जमा हुए थे। वापस देने के लिए उनसे बात करेंगे मुख्यमंत्री जी से आगर संतोषप्रद जवाब नहीं प्राप्त होगा तो यह लोग साइकिल से माननीय प्रधानमंत्री महोदय से मिलने जाएंगे। वह प्रधानमंत्री महोदय से मिलकर उनके समक्ष से यह मांग रखेंगे। इनकी साईकिल यात्रा का रूट निम्नानुसार रहा है। जिसकी जानकारी एसडीएम को लिखित में दे दी गई है। इनकी यात्रा कुक्षी से बाग, बाग से राजगढ़, राजगढ़ से दसआई होते हुए छोटा नागदा और यहां से राजुला राजुला से बड़नगर, बड़नगर से उज्जैन, उज्जैन से भोरासा, भोरासा से आष्टा, आष्टा से सीहोर, सीहोर से भोपाल पहुंचेगी ।