Earthquake in Indonesia: भूकंप के झटकों से थर्राया इंडोनेशिया, सुनामी की चेतावनी

पूर्वी इंडोनेशिया में 7.7 की तीव्रता का भूकंप सुनामी वार्निंग सेंटर की चेतावनी जारी

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। मंगलवार की सुबह पूर्वी इंडोनेशिया के लिए भूकंप के झटके के साथ तबाही लेकर आई। 7.7 की तीव्रता का जबरदस्त भूकंप सुनामी का कारण भी बन सकता है। यूएस जियोलॉजिकल सर्वे के अनुसार भूकंप 3:20 जीएमटी पर फ्लोर सागर में 18.5 किलोमीटर की गहराई पर मोमेरे शहर से लगभग 100 मीटर उत्तर दिशा की ओर महसूस किया गया।

यह भी पढ़ें… World Soil Day : ये है विश्व मिट्टी दिवस का इतिहास और मनाने की वजह

भूकंप के बाद बचाव और राहत कार्य जोरों पर है। इसी बीच पैसिफिक सुनामी वार्निंग सेंटर की ओर से एक चेतावनी जारी करते हुए कहा गया है कि भूकंप के केंद्र के 1000 किलोमीटर तक तटो के आसपास खतरनाक लहरें उठने की आशंकाएं हैं। यूएसजीएस ने कहा है कि लोगों के हताहत होने की आशंका कम ही है। लेकिन इन भूकंप के झटकों के बाद सुनामी और भूस्खलन जैसे खतरे बढ़ सकते हैं।

यह भी पढ़ें… T20 World Cup : रबाडा ने हैट्रिक लेकर रचा इतिहास, बने पहले साउथ अफ्रीकी गेंदबाज

इससे पहले साल 2004 में भी इंडोनेशिया इस तरह के खतरनाक भूकंप का सामना कर चुका है। तब सुमात्रा के पास 9.1 तीव्रता के भूकंप ने सुनामी ला दी थी । उस समय इंडोनेशिया में करीब डेढ़ लाख लोगों ने अपनी जान गंवाई थी। इसके अलावा जीएफजेड जर्मन रिसर्च सेंटर ऑफ जिओ साइंसेज के अनुसार इस साल मई में भी इंडोनेशिया में सुमात्रा द्वीप के उत्तर पश्चिमी तट पर 6.6 तीव्रता का भूकंप आया था । साल 2018 में भी ऐसे एक शक्तिशाली भूकंप का सामना लोमबोक द्विप ने किया था‌। उस समय 550 लोगों ने इस जबरदस्त भूकंप में जान गंवाई थी।

यह भी पढ़ें… MP News: लापरवाही पर शिक्षक समेत 3 निलंबित, 3 कर्मचारियों को नोटिस, 105 पर जुर्माना

भूकंप आने के मुख्य कारण की बात करें तो भूमिगत तापमान का बढ़ जाना, ज्वालामुखी का फटना और अन्य भूगर्भिक गतिविधियां इसमें मुख्य है। भूकंप की तीव्रता रिएक्टर पैमाने पर आँकी जाती है।