पूर्व CM की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव, कार्यकर्ता-नेताओं में खलबली, मुंबई ले जाने की तैयारी

8806

मुंबई।देश में कोरोना(corona) की रफ्तार तेज होती जा रही है, दिनों दिन हालात गंभीर होते जा रहे है।आम आदमी से होता हुआ कोरोना नेताओं के घर दस्तक दे रहा है। अब मुंबई से बड़ी खबर आ रही है कि उद्धव सरकार (Uddhav government) में मंत्री और महाराष्‍ट्र के पूर्व सीएम अशोक चव्‍हाण(Former Maharashtra CM Ashok Chavan) कोरोना हो गया है।उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें नांदेड से मुंबई लाया जा रहा है। हालांकि अभी उनके नाम की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। इधर प्रदेश इस समय कोरोना पॉजिटिव आंकड़े 50 हजार के पार हो चुके हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री चव्हाण (Former Chief Minister Chavan) अक्सर मुंबई (mumbai) और मराठवाड़ा (Marathwada) के बीच लगातार यात्रा करते रहे। चव्हाण मौजूदा समय में वे नांदेड के भोकर विधानसभा सीट से विधायक(mla) हैं। इसके पहले वे नांदेड लोकसभा(loksabha seat) से सांसद थे, लेकिन 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में चुनाव नहीं जीत पाने पर पार्टी ने उन्हें महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में विधानसभा का टिकट दिया। जिस चुनाव में उन्हें जीत हासिल हुई और महाविकास आघाड़ी के साथ राज्य में सरकार बनने पर उद्धव सरकार में उन्हें पीडब्लूडी मंत्री बनाया गया। वहीं चव्हाण को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उनके विधानसभा क्षेत्र नांदेड के साथ ही पूरे प्रदेश के कांग्रेस के कार्यकर्ता सदमे में हैं। हर कोई उनके ठीक होने को लेकर प्रार्थना कर रहा है। चव्हाण के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने को लेकर गुजरात (gujrat) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अर्जुन मोढवाडिया (Senior Congress leader Arjun Modhwadia) ने भी ट्वीट उनके ठीक होने के प्रार्थन की है ।

अशोक चव्हाण से पहले उद्धव सरकार में मंत्री जितेंद्र अव्हाड़ भी कोरोना संक्रमित पाए गए थे। जितेंद्र अव्हाड़ के साथ उनके 14 निजी स्टाफ को भी कोरोना संक्रमण ने अपनी चपेट में ले लिया था।हालांकि वह दो सप्ताह से अधिक समय तक मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती रहने के बाद ठीक हो गए।

बता दे कि महाराष्ट्र में जानलेवा कोरोना वायरस की वजह से दिन पर दिन स्थिति बिगड़ती जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, आज महाराष्ट्र में संक्रमित मरीजों की संख्या 50 हजार 251 पहुंच गई है। पिछले 24 घंटों में 3041 नए मामले सामने आए हैं। वहीं, अबतक 1635 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि 14 हजार 600 मरीज ठीक भी हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here