आधी रात को निरीक्षण पर निकले “महाराज” समर्थक पूर्व मंत्री, अफसरों को दी ये चेतावनी

ग्वालियर।अतुल सक्सेना।

सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर बुधवार रात 12 बजे अचानक अपनी विधानसभा में पानी की समस्या का निरीक्षण करने पहुँच गए। उन्होंने यहाँ कलेक्टर और निगमायुक्त सहित पेयजल सप्लाई से संबंधित अफसरों को मौके पर तलब कर लिया और साफ शब्दों में कहा कि गर्मी बढ़ गई है, मेरे क्षेत्र में पानी की समस्या नहीं आनी चाहिए। यदि शिकायत मिली तो ठीक नहीं होगा।

ग्वालियर जिले की ग्वालियर विधानसभा के पूर्व विधायक एवं पूर्व मंत्री, सिंधिया समर्थक नेता प्रद्युम्न सिंह तोमर हमेशा की तरह एक्शन मोड में हैं। बुधवार को आधी रात वे अचानक अपनी विधानसभा के हजीरा, इंद्रा नगर, नूरगंज आदि क्षेत्रों में पेयजल समस्या का निरीक्षण करने पहुंचे। उन्होंने मौके पर ही कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह, नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन, पीएचई के अधीक्षण यंत्री आरएलएस मौर्य, कार्यपालन यंत्री आरके शुक्ला, जागेश श्रीवास्तव, एई विष्णु पाल सहित अन्य अधिकारियों को मौके पर ही तलब किया। पूर्व मंत्री ने कहा कि गर्मी तेज हो गई है और पीले गंदे पानी की शिकायतें मिलने लगी हैं। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के एई विष्णु पाल लोगों की समस्या नहीं सुनते। लोगों को नई लाइन में कनेक्शन नहीं मिल रहा, कई जगह लाइन टूटी हुई है जिससे सप्लाई घरों तक नहीं पहुँच रही। शिकायत सुनने के बाद निगम आयुक्त ने एई विष्णु पाल को फटकार लगाते हुए हजीरा क्षेत्र की सप्लाई से हटा दिया और क्षेत्र की पेयजल सप्लाई की जिम्मेदारी अधीक्षण यंत्री मौर्य को दे दी। पूर्व मंत्री तोमर ने अधिकारियों को साफ शब्दों में चेतावनी दी कि मैं पेयजल सप्लाई को चेक करने आधी रात से लेकर सुबह तक रहूँगा कहीं से भी शिकायत आई तो ठीक नहीं होगा। पूर्व मंत्री के तेवर देख कर कलेक्टर और आयुक्त ने भरोसा दिलाया कि जो भी कमियां हैं उन्हें समय रहते ठीक कर लिया जायेगा और कहीं समस्या नहीं आने दी जायेगी।