यहां दिग्विजय सिंह पर भारी पड़ गए कवि डॉ. कुमार विश्वास

जो भी हो इस मामले पर कवि कुमार विश्वास और दिग्विजय सिंह की जुगलबंदी लोगों द्वारा बेहद पसंद की जा रही है। लोग इस मामले को अलग-अलग एंगल से देखते हुए नजर आ रहे है।

दिग्विजय सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। भारत (India) मे दक्षिण पंथ चीन (China) के साथ विवादों (Dispute) और भारत पाकिस्तान (Pakistan) बटवारे को लेकर बीजेपी (BJP) हमेशा भारत के प्रथम प्रधानमंत्री और कांग्रेस के नेता जवाहरलाल नेहरू (First Prime Minister Of India And Congress Leader Jawaharlal Nehru) पर आरोप लगाती हुई आई है। भाजपा के द्वारा समय-समय पर जवाहर लाल नेहरू के कार्यो में गलतियां खोज कर पब्लिक डोमेन में डाली जाती है।

दिग्विजय का ट्वीट

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Former Chief Minister Of Madhya Pradesh Digvijay Singh) भारतीय राजनीति (Indian Politics) के उन नेताओ (Leaders) में शुमार है जो हमेशा अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में बने रहते है। दरअसल हुआ कुछ यूं कि पूर्व में आम आदमी पार्टी (Former Leader Of Aam Adami Party) के नेता रहे और जाने माने कवि डॉ. कुमार विश्वास (Poet Kumar Vishwas) भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के बारे में एक कार्यक्रम में व्याख्यान दे रहे थे और इस वीडियो (Video) को लेकर दिग्विजय सिंह बेहद आश्वस्त हो गए और वीडियो को लेकर ट्विटर पर पोस्ट कर दिया। वीडियो पोस्ट करते हुए दिग्विजय सिंह ने लिखा “पंडित जवाहर लाल नेहरू को गाली देने वाले जरा कुमार विश्वास को सुनो”

Read More: दिग्विजय सिंह का कांग्रेस में कद बरकरार, मिली नई जिम्मेदारी

विश्वास का पलटवार

दरअसल कवि के बारे में यह कहा जाता है कि इनके कंधे पर समाज के पुनर्जागरण की जिम्मेदारी होती है। कुमार विश्वास ने कवि धर्म का पालन करते हुए दिग्विजय सिंह को धर लिया और ऐसा जवाब दिया कि दिग्विजय सिंह के पास कोई माकूल जवाब ही बाकी नहीं रहा। दरअसल कुमार विश्वास ने दिग्विजय सिंह को ट्वीट को कोट करते हुए कहा कि ” केवल यही नहीं, हमने तो बहुत कुछ बोला है सारी सुना करिये सांसद जी”

दरअसल इस ट्वीट में कुमार विश्वास ने एक ही बार मे सैकड़ो तीर चलाये जो अपने निशाने पर जाकर ठीक बैठे। दरअसल कुमार ने अपने ट्वीट में जिन इमोजी इत्यादि का प्रयोग किया है। वो कही न कहीं राहुल गांधी द्वारा संसद में आंख मारने से जुड़ा हुआ नजर आता है। लेकिन कुमार के इस ट्वीट के पर दिग्विजय सिंह की कोई भी प्रतिक्रिया सांमने नहीं आई है।

जो भी हो इस मामले पर कवि कुमार विश्वास और दिग्विजय सिंह की जुगलबंदी लोगों द्वारा बेहद पसंद की जा रही है। लोग इस मामले को अलग-अलग एंगल से देखते हुए नजर आ रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here