सिंधिया समर्थक इमरती देवी की पूर्व मंत्री को खुली चुनौती-‘मुझे हराकर दिखाएं’

ग्वालियर।अतुल सक्सेना।

कभी कांग्रेस में साथ रहे लेकिन खेमे में बंटे पूर्व मंत्रियों के बीच बयान युद्ध छिड़ गया है। सिंधिया समर्थक और कमलनाथ- दिग्गी समर्थक पूर्व मंत्री एक दूसरे पर पलटवार कर रहे हैं। लेकिन एक बार फिर ज्योतिरदित्य सिंधिया के समर्थन में पूर्व मंत्री इमरती देवी सामने आईं हैं उन्होंने पूर्व मंत्री लाखन सिंह को चुनौती देते हुए दावा किया कि सभी 22 की 22 सीटें हम ही जीतेंगे।

कांग्रेस से अलग होने के बाद से भाजपा में गए ज्योतिरदित्य सिंधिया अब अपने पुराने साथियों के निशाने पर हैं। कांग्रेस के नेता और कमलनाथ सरकार के पूर्व मंत्री सिंधिया पर तंज कसने का कोई भी मौका छोड़ना नहीं चाहते। पिछले दिनों ग्वालियर प्रवास पर आये पूर्व पशुपालन मंत्री लाखन सिंह ने कहा था कि सिंधिया ने विषम परिस्थितियों में कांग्रेस के साथ गद्दारी की कांग्रेस उन्हें कभी वापस नहीं लेगी। उन्होंने ये तक कहा था कि कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए जो लोग मंत्री बन गए हैं या मंत्री बनने वाले हैं उन्हें अभी चुनाव में जाना है लेकिन वे वहाँ से हाउस में नहीं जायेंगे बल्कि अपने घर बैठेंगे। जनता में उनके प्रति आक्रोश है।

पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव के बयान पर पलटवार करते हुए सिंधिया समर्थक पूर्व महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने आड़े हाथ लिया है। इमरती देवी ने लाखन सिंह को नसीहत देते हुए कहा कि जिनके घर शीशे के है, वो दूसरे के घरों में पत्थर नही फैंकते, आप भी तो बीएसपी छोड़कर कांग्रेस में आएं थे, आज महाराज सिंधिया को बुरा कहते हो, कभी आप सिंधिया जी के यहां दोनों टाइम हाजरी लगाते थे। पूर्व मंत्री ने कहा कि आज लाखन सिंह का हाल खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे वाला हो गया है, क्योंकि लाखन सिंह का मंत्री पद चला गया है और अगली बार ये घर पर बैठेंगे। इमरती देवी ने कहा कि मैं चुनौती देती हूं, लाखन सिंह मुझे चुनाव में हराकर दिखाएं। मेरी विधानसभा और उनकी विधानसभा पास-पास हैं। इमरती देवी ने कहा कि महाराज के साथ गए हम 22 के 22 जीतकर आएंगे ये वादा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here