जबलपुर : दो भाइयों के विवाद में गई मजदूर की जान, परिजनों ने जमकर किया हंगामा

जबलपुर में दो भाइयों के झगड़े के बीच-बचाव में एक मजदूर की जान चली गई। जिसको लेकर परिजनों ने जमकर हंगामा किया। मौके पर पहुंचे एएसपी ने मदद का आश्वासन दिया है।

जबलपुर, संदीप कुमार। दो सगे भाईयों के झगड़े में एक मजदूर को अपनी जान गंवानी पड़ी। करीब ढाई माह पहले हुए विवाद में मजदूर को आपसी विवाद में भाईयो ने सीढ़ियों से धक्का दे दिया, जिसके हाथ-पैर और सिर में गंभीर चोटे आई। घायल मजदूर जिंदगी और मौत के बीच करीब ढाई माह था और आखिरकार आज मंगलवार उसने मेडिकल कालेज में दम तोड़ दिया। बाद में परिवारजन और क्षेत्रीय लोगों ने घटना को लेकर घमापुर चौक में हंगामा शुरू कर दिया। हंगामे को देखते हुए मौके पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रोहित कशवानी (ASP Police Rohit Kashwani) अन्य पुलिस कर्मियों के साथ पहुंचे।

यह भी पढ़ें:-सागर के सुरखी में नाले में मिला नवजात का शव, क्षेत्र में फैली सनसनी

मृतक की पत्नी ने बताया कि दो माह पूर्व पति सुनील कोल क्षेत्र के संजय शर्मा और अजय शर्मा के पुताई कार्य के लिए गए थे। वहां पर अजय और संजय को झगड़ा हो गया था। बीच-बचाव करने सुनील जब पहुंचा तो संजय शर्मा ने उसे लात मारकर नीचे गिरा दिया। इसकी वजह से सुनील के हाथ-पैर में गंभीर चोटे आई, घटना के बाद संजय शर्मा और उनके भाई ने उचित इलाज की बात कही थी और पति को किसी निजी अस्पताल में भर्ती कराए जाने का वादा किया था, लेकिन पति को इलाज के लिए मेडिकल में भर्ती करा दिया गया और एक बार भी उसे देखने नहीं गए। बता दें कि लापरवाही के कारण सुनील कोल की मौत के बाद क्षेत्रीयजनों ने घमापुर चौक पर जमकर हंगामा किया। मौके पर पहुंचे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रोहित कशवानी से क्षेत्रीय लोगों ने मांग रखी कि मृतक के परिवार को उचित और तत्काल मुआवजा के साथ आरोपियों पर कठोर कार्रवाई की जाए।

एएसपी ने मृतक की मां को दी नगद राशि
सुनील कोल की माली हालत खराब थी घर पर अपनी मां और बीवी बच्चों की परवरिश करने वाला वह इकलौता था। ऐसे में अचानक उसकी मौत से पूरा घर परिवार बिखर गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने आश्वासन दिया कि जल्द ही जिला प्रशासन की तरफ से मुआवजा दिलवाया जाएगा। तो वही मौके पर ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रोहित काशवानी ने अपनी तरफ से कुछ मदद मृतक की मां को नगद राशि के रूप में की।