ऊर्जा मंत्री

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। प्रदेश में एक बार फिर बिजली उपभोक्ताओं (Electricity consumers) को बड़ा झटका लगने वाला है। बिजली कंपनी (electricity company) द्वारा एक बार फिर से बिजली बिल (electricity bill) के दाम में 8 प्रतिशत की बढ़ोतरी का प्रस्ताव तैयार किया गया है।

दरअसल मप्र पावर मैनेजमेंट कंपनी ने 8% की बिल बढ़ोतरी को लेकर प्रस्ताव तैयार किया गया है। जहां 50 यूनिट पर वर्तमान दर 267 रुपए को बढ़ाकर 289 रुपए किया जाना है। वही 100 यूनिट पर 561 रुपए को बढ़ाकर 608 प्रस्तावित है। 150 यूनिट पर 813 रुपए से बढ़ाकर 1097 रुपए प्रस्तावित दर है। इसके अलावा 200 यूनिट पर 1356 से बढ़ाकर 1546 रुपए प्रस्तावित दर तय किया गया है।

Read More: Sehore : शिवराज सिंह चौहान ने मंच से किए कई बड़े ऐलान, कलेक्टर-SP की लगाई क्लास

अब तक बिजली कंपनी द्वारा घरेलू उपभोक्ता के खपत के हिसाब से से चार श्रेणी में बांटा गया था जिसमें 50, डेढ़ सौ 300 और 300 से ऊपर यूनिट पर खपत के अलग-अलग दाम तय किए गए थे। जबकि नए बदलाव के मुताबिक मध्य प्रदेश पावर मैनेजमेंट कंपनी ने 50 के बाद 51 से 150 यूनिट को घटाकर 100 यूनिट पर ही नई दर तय की है। वहीं 101 से 300 की खपत पर उपभोक्ता को एक ही समान राशि भुगतान करनी होगी। मध्य प्रदेश में पिछले साल बिजली बिल के दामों में बढ़ोतरी की गई थी।

बता दे कि बिजली कंपनियों पर 13000 से अधिक करोड़ रुपए का बकाया है। जिसमें सरकारी विभागों को बिजली कंपनियों को 1500 करोड़ रुपए अदा करने हैं। इस मामले में विभाग द्वारा आदेश जारी किया गया है। जिसमें कहा गया है कि बिजली बिलों का भुगतान समय पर किया जाए ताकि सरचार्ज की स्थिति ना बने।

मामले में पीएचक्यू ने सभी इकाई प्रमुख को बिजली बिल के सरचार्ज भुगतान के संबंध में पत्र भी लिखा है। वहीं विभागों का कहना है कि बजट होते हुए बिजली बिल का भुगतान न करने की लापरवाही अफसरों की है। जिस पर सख्त कदम उठाया जाएगा।