PEB

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में युवाओं (youth) को रोजगार (jobs) देने के लिए एमपी पीईबी (MPPEB) ने ग्रुप 2 (सब ग्रुप 4) के तहत विभिन्न पदों पर वैकेंसी (vacancy) निकाली थी। 250 पदों से अधिक पर निकली इस वैकेंसी कृष 63,000 आवेदन आ चुके हैं। इसी बीच इस परीक्षा में शामिल होने वाले हजार उम्मीदवारों को बड़ा झटका लगा है।

दरअसल एमपीपीईबी (MPPEB) ने ग्रुप 2 (सब ग्रुप 4) के इस वैकेंसी में अधिकतर पदों के लिए कंप्यूटर प्रोफिशिएंसी सर्टिफिकेट टेस्ट  (Computer Proficiency Certificate Test) अनिवार्य कर दिया गया है। जिसके बाद कई ऐसे उम्मीदवार (candidate) हैं जो इसके लिए आवेदन योग्य नहीं रह गए हैं। जबकि कोरोना (corona) की वजह से मार्च में सीपीसीटी (CPCT) का आयोजन नहीं किया जा सका। वही कइयों की स्कोर बोर्ड (scoreboard) की वैधता 2020 में समाप्त हो गई है। अब ऐसे में लोगों में दो बार इस परीक्षा के लिए अयोग्य घोषित कर दिए गए हैं। वहीं इस मामले में पीईबी का कहना है कि वह सिर्फ परीक्षा एजेंसी है इसलिए सीपीसीटी को लेकर वह कुछ भी नहीं कर सकते हैं।

Read More: मेडिकल टीचर्स के लिए चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग की बड़ी घोषणा

उम्मीदवारों का कहना है कि 2019 में सीपीसीटी की परीक्षा आयोजित नहीं की गई और अब सीपीसीटी की स्कूल बोर्ड की वैधता समाप्त हो गई। उम्मीदवारों का कहना है कि वैधता को बढ़कर भर्ती परीक्षा में आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि बढ़ाई जाए। वहीं इस मामले में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा का कहना है कि इस मामले में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। जानकारी के संज्ञान में आते ही उन पर जरूरी कार्रवाई की जाएगी।

Read More: सरकारी नौकरी: MPPEB के 250 पदों पर निकली वैकेंसी को लेकर बड़ी खबर, देखे यहां

बता दे की पीईबी ने ग्रुप 2 (सब ग्रुप 4) भर्ती परीक्षा के लिए विभिन्न पदों पर पुलिस वैकेंसी निकाली थी। जिसमें ऑनलाइन आवेदन 1 दिसंबर से शुरू किए गए थे। वहीं ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 15 दिसंबर रखी गई थी। जिसे बाद में बढ़ा दिया गया था।

वहीं पीईबी ने ग्रुप 2 (सब ग्रुप 4) के लिए असिस्टेंट, जूनियर असिस्टेंट, डाटा एंट्री ऑपरेटर, स्टेनोग्राफर, टाइपिस्ट,  रिसेप्शनिस्ट, असिस्टेंट लाइब्रेरियन, इंस्पेक्टर ,ऑडिटर, कैटलॉग जैसे विभिन्न पदों पर वैकेंसी निकाली थी। वहीं परीक्षा आयोजित करने की तिथि 29 जनवरी से 4 फरवरी तक रखी गई है।