Commonwealth Games 2022 : मुरली श्रीशंकर ने रचा इतिहास, लॉन्ग जंप में मेडल जीतने वाले बने पहले पुरुष खिलाड़ी

बहमास के लकुान नैरान और भारत के मुरली श्रीशंकर ने सामान 8. 08 मीटर का बेस्ट जम्प किया लेकिन दूसरा बेस्ट नैरान का श्रीशंकर से ज्यादा होने के बाद गोल्ड बहमास के खाते में गया।

खेल, डेस्क रिपोर्ट। कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में मुरली श्रीशंकर ने इतिहास रचते हुए लॉन्ग जंप में सिल्वर मेडल अपने नाम किया। कॉमनवेल्थ गेम्स के लॉन्ग जंप इवेंट में श्रीशंकर मेडल जीतने वाले पहले पुरुष एथलिट है। हालांकि, 2002 मैनचेस्टर कॉमनवेल्थ गेम्स में अंजू बॉबी जॉर्ज ब्रॉन्ज वहीं 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में प्रजुषा मलियाक्कल ने सिल्वर मेडल जीत चुकी है।

खराब शुरुआत के बाद मुरली श्रीशंकर का बेस्ट जंप पांचवे प्रयास में आया, जहां उन्होंने 8. 08 मीटर की छलांग लगाई। बता दे, बहमास के लकुान नैरान और भारत के मुरली श्रीशंकर ने सामान 8. 08 मीटर का बेस्ट जम्प किया लेकिन दूसरा बेस्ट नैरान का श्रीशंकर से ज्यादा होने के बाद गोल्ड बहमास के खाते में गया।

ऐसा रहा उनका प्रदर्शन –

पहला प्रयास – 7.60 मीटर
पहला प्रयास – 7.84 मीटर
पहला प्रयास – 7.84 मीटर
पहला प्रयास – डिसक्वालिफाइड
पहला प्रयास – 8. 08 मीटर
पहला प्रयास – डिसक्वालिफाइड

आपको बता दे, इस मेडल के साथ भारत के कुल 19 पदक हो गए है, जिसमें 5 गोल्ड, 7 सिल्वर और इतने ही ब्रॉन्ज मेडल शामिल है। इस दौरान सबसे ज्यादा मेडल वेटलिफ्टिंग में आए है, जहां भारत ने 3 गोल्ड, 3 सिल्वर और 4 ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा किया है। इसके अलावा जूडो खिलड़ियों ने तीन मेडल अपने नाम किये है। आइये एक नजर डालते है पूरी मेडल सूची पर –

मीराबाई चानू – गोल्ड मेडल (वेटलिफ्टिंग )
जेरेमी लालरिनुंगा – गोल्ड मेडल (वेटलिफ्टिंग )
अचिंता शेउली – गोल्ड मेडल (वेटलिफ्टिंग )
लॉन बाउल्स – गोल्ड मेडल (महिलाओं का फोर इवेंट)
टेबल टेनिस – गोल्ड मेडल (मिक्स्ड इवेंट)
संकेत सरगर – सिल्वर मेडल (वेटलिफ्टिंग )
बिंदियारानी देवी – सिल्वर मेडल (वेटलिफ्टिंग )
विकास ठाकुर – सिल्वर मेडल (वेटलिफ्टिंग )
बैडमिंटन – सिल्वर मेडल (मिक्स्ड इवेंट)
सुशीला देवी – सिल्वर मेडल (जूडो)
तूलिका मान – सिल्वर मेडल (जूडो)
मुरली श्रीशंकर – सिल्वर मेडल (लॉन्ग जंप)
गुरुराजा पुजारी – ब्रॉन्ज मेडल (वेटलिफ्टिंग )
हरजिंदर कौर – ब्रॉन्ज मेडल (वेटलिफ्टिंग )
लवप्रीत सिंह – ब्रॉन्ज मेडल (वेटलिफ्टिंग )
गुरदीप सिंह – ब्रॉन्ज मेडल (वेटलिफ्टिंग )
विजय यादव – ब्रॉन्ज मेडल (जूडो)
तेजस्विन शंकर – ब्रॉन्ज मेडल (हाई-जंप)
सौरव घोषाल – ब्रॉन्ज मेडल (स्क्वाश)