अब शिवपुरी मे मिला एक कोरोना पॉजिटिव मरीज, प्रशासन ने लगाया कर्फ्यू

शिवपुरी।परवेज खान।
शिवपुरी में कोरोना पॉजिटिव होने का पहला केस सामने आया है। जिसमें हाल ही में दुबई से लौटा एक युवक जांच के बाद कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। सबसे गंभीर बात यह है कि स्वास्थ्य विभाग ने उसकी स्क्रीनिंग के बाद उसे आईसोलेशन में न रखकर घर भेज दिया।

इस दौरान वह कॉलोनी सहित शहर में रहने वाले अपने परिवार व रिश्तेदारों और मित्रों के सम्पर्क में बना रहा और आज रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पूरे शहर में हड़कम्पपूर्ण स्थिति बन गई है। वहीं स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के भी हाथ पैर फूल गए हैं। आनन-फानन में शहर में कर्फ्यू लगाने की घोषणा कर दी गई। जिसकी पुष्टि अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गजेंद्र सिंह कंवर ने की। उनका कहना था कि शहर में कर्फ्यू लागू रहेगा। जबकि तहसील स्तर पर लॉकडाउन की स्थिति रहेगी।

जानकारी के अनुसार होटल पीएस के पीछे रहने वाला एक युवक अभी कुछ समय पहले ही दुबई से वापस लौटा था। उस समय एयरपोर्ट पर उसकी स्क्रीनिंग हुई थी। इसके बाद जब वह शिवपुरी पहुंचा तो उसकी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को मिली। जिन्होंने उसका सैम्पल लिया और जांच के लिए ग्वालियर भेज दिया। यहां स्वास्थ्य विभाग ने इतनी गंभीर लापरवाही की कि उसे आइसोलेशन में न रखकर घर जाने की सलाह दे दी। लेकिन आज जैसे ही उसकी जांच रिपोर्ट आई तो उसमें कोरोना पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद से ही प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की हाईलेवल बैठक चालू हो गई। इस दौरान स्वास्थ्य अधिकारियों ने मीडिया से बात करना भी बंद कर दिया। सीएमएचओ डॉ. एएल शर्मा ने फोन उठाना बंद कर दिया। वहीं सिविल सर्जन पीके खरे ने भी कोई जानकारी देने से मना कर दिया।
बॉर्डर लाईन पॉजिटिव है युवक, एक और टेस्ट होगा

डॉ. संजय ऋषिश्वर ने जानकारी देेते हुए बताया कि दीपक शर्मा के डीआरडी में हुए टेस्ट में दीपक की रिपोर्ट बॉर्डर लाइन (हल्का संक्रमण) पॉजिटिव पाया गया है। जिसका एक टेस्ट और कराया जा रहा है। वहीं दीपक के परिवार के लोगों का भी चैकअप जारी है। साथ ही उन लोगों का भी चैकअप होगा। जिनके सम्पर्क में दीपक रहा है।

खनियांधाना में भी संदिग्ध सामने आया
खनियांधाना कस्बे में रहने वाला समीर खान नामक युवक को आज जिला अस्पताल लाया गया है। समीर 15 मार्च को हैदराबाद से खनियांधाना आया था। इस दौरान उसे सर्दी, जुकाम की शिकायत थी। जिसका उसने डॉक्टरों से चैकअप कराया और उसके बाद से ही वह सैल्फ आईसोलेशन में चला गया। इस दौरान उसने परिवार के किसी भी सदस्य से मिलना बंद कर दिया और आज जब दीपक शर्मा की कोरोना पॉजिटिव आई तो उसे स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिला अस्पताल लाया गया।

कर्फ्यू लगने के साथ ही सभी सेवाएं हुई निलंबित
शहर में कफ्र्यू लगाने की घोषणा होने के बाद ही सभी उपयोगी वस्तुओं के लिए प्रदान की जा रहीं सेवाएं निलंबित हो गई हैं। अब प्रशासन लोगों को आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध कराएगा। हालांकि यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि कफ्र्यू कितने दिन तक जारी रहेगा।