अब ब्लॉक, गांव, वार्ड में होंगे क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप, आदेश जारी

मप्र

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (Corona) महामारी की प्रभावी रोकथाम के लिए शिवराज सरकार (Shivraj Government) लगातार प्रयास कर रही है। जिला स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप (Crisis Management Group) के माध्यम से सरकार हर जिले की गतिविधियों पर नजर रखे हुए है।  अब सरकार ने क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप को वार्ड स्तर तक ले जाने का फैसला किया है।  गृह विभाग द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि अब ब्लॉक स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप, गांव स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप और वार्ड स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप बनाये जायेंगे जो अपने क्षेत्र की गतिविधि देखकर फैसला लेंगे  .

गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ राजेश राजौरा (Rajesh Rajora) के हस्ताक्षर से जारी आदेश में कहा गया है कि अब ब्लॉक, गांव और वार्ड स्तर पर क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप (Crisis Management Group) का गठन किया जायेगा। ब्लॉक स्तर के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप (Crisis Management Group) के अध्यक्ष एसडीएम होंगे। गांव स्तरीय मैनेजमेंट ग्रुप (Crisis Management Group) के अध्यक्ष ग्राम पंचायत की प्रशासकीय समिति के अध्यक्ष होंगे।  इस ग्रुप का गठन प्रत्येक गांव में किया जाएगा। वहीं वार्ड स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप (Crisis Management Group)के अध्यक्ष वार्ड के प्रभारी  अधिकारी होंगे। इस ग्रुप का गठन भी प्रत्येक वार्ड में किया जायेगा।

आदेश में कहा गया है कि ब्लॉक स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के आदेश जिला कलेक्टर द्वारा, वार्ड स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के आदेश सम्बंधित आयुक्त नागत निगम, मुख्य नगर पालिका अधिकारी और गांव स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के आदेश सीईओ जनपद पंचायत द्वारा जारी किये जायेंगे।  इन  समूहों को महीने में कम से कम एक बार बैठक अवश्य करनी होगी।

अब ब्लॉक, गांव, वार्ड में होंगे क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप, आदेश जारी

अब ब्लॉक, गांव, वार्ड में होंगे क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप, आदेश जारी