Youth Congress: कल से शुरू होगी चुनावी प्रक्रिया, तय किए गए मानक, ये दो विधायक प्रमुख दावेदार

कमलनाथ के दिल्ली से लौटने के तुरंत बाद ही नगर निकाय चुनाव को लेकर भी कांग्रेस की तैयारी शुरू की जाएगी।

नगरीय निकाय चुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) में चुनाव (election) का दौर अभी थमा नहीं है। 28 सीटों पर हुए विधानसभा चुनाव के बाद अब 7 साल के बाद मध्य प्रदेश यूथ कांग्रेस चुनाव (Election of Madhya Pradesh Youth Congress) होने जा रहा है। देश में कर्नाटक के बाद यह दूसरा ऐसा संगठनात्मक चुनाव होगा। जिसमें ऑनलाइन वोटिंग (online voting) की जाएगी। मध्यप्रदेश में यूथ कांग्रेस चुनाव की प्रक्रिया मंगलवार से शुरू की जाएगी।

दरअसल मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया मंगलवार 24 नवंबर से शुरू होकर 28 नवंबर तक चलेगी। वही प्रत्याशियों को चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे। हालांकि अभी तक वोटिंग की तारीख का ऐलान नहीं किया गया लेकिन मुमकिन है कि 5 से 10 दिसंबर के बीच वोटिंग करवाई जा सकती है।

Read More: Coronavirus : PM मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक, हो सकता है बड़ा फैसला

इतना ही नहीं मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस के अगले महीने होने जा रहे चुनाव में करीबन 3 लाख से ज्यादा सदस्य ऑनलाइन वोटिंग कर अध्यक्ष चुनेंगे। मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस चुनाव में कार्यकर्ता अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव और जिला अध्यक्ष चुना जाएगा। उपाध्यक्ष पद के लिए 2 पद सामान्य, 1 अनुसूचित जाति-जनजाति और एक महिला के लिए आरक्षित है। इसके साथ ही महासचिव पद के लिए 5 सामान्य, एक अनुसूचित जाति-जनजाति, एक अन्य पिछड़ा वर्ग और एक महिला, एक अल्पसंख्यक, एक दिव्यांग और एक पद अनुसूचित जाति-जनजाति महिला के लिए आरक्षित किया गया है।

इसके साथ ही चुनाव चिन्ह आवंटित होने के बाद मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस के प्रमुख दावेदार पीसीसी चीफ कमलनाथ और दिग्विजय सिंह से भी मुलाकात करेंगे। इसके साथ ही मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस संगठन के अध्यक्ष सहित अन्य पदों पर उम्मीदवारों की उम्र 35 वर्ष तय की गई है।

वही अध्यक्ष पद की दौड़ में कांग्रेस के दो युवा विधायक विपिन वानखेड़े और सिद्धार्थ कुशवाहा के अलावा विक्रांत भूरिया, अजीत बोरासी, शशांक दुबे, शाश्वत सिंह, सोमिल नाहटा, एनएसयूआई के प्रदेश प्रवक्ता विवेक त्रिपाठी और संजय यादव के नाम शामिल हैं। वहीं कमलनाथ के दिल्ली से लौटने के तुरंत बाद ही नगर निकाय चुनाव को लेकर भी कांग्रेस की तैयारी शुरू की जाएगी।

बता दें कि प्रदेश में 7 साल बाद युवा कांग्रेस की चुनाव होने जा रहे हैं। 2013 में युवा कांग्रेस के चुनाव हुए थे और तब से अब तक कुणाल चौधरी युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बने हुए हैं। वहीं 2018 में विधानसभा चुनाव, 2019 में लोकसभा चुनाव की वजह से यूथ कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव को टाल दिया गया था। जिसकी बात कोरोना और विधानसभा उपचुनाव को लेकर एक बार फिर से यूथ कांग्रेस चुनाव टल गए थे। जिसके बाद अब फिर से चुनाव कार्यक्रम घोषित किए गए हैं।