श्रीराम मंदिर निधि संग्रह- सीएम शिवराज ने सौंपा एक लाख का चेक, 15 फरवरी तक चलेगा अभियान

इसके लिए राम जन्मभूमि तीर्थ न्यास की ओर से 10 रुपए से लेकर 2000 रुपए तक का कूपन जारी किया गया है। वही 20,000 से ज्यादा का सहयोग देने वाले को चेक के माध्यम से राशि जमा ली जा रही है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। अयोध्या जी में राम मंदिर निर्माण के लिए विश्व हिंदू परिषद द्वारा धन संचय का अभियान शुरू कर दिया गया है। वही मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में इसकी शुरुआत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) ने श्रीराम जन्मभूमि निधि संग्रह अभियान के तहत 1 लाख रुपए की सहयोग राशि जमा करके की है। सीएम शिवराज ने राम मंदिर निर्माण के लिए 1 लाख रुपए का चेक विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय संगठन मंत्री विनायकराव देशमुख (Vinayakrao Deshmukh) को सौंपा।

इस मौके पर सीएम शिवराज ने खुद को भाग्यशाली बताते हुए कहा कि अब मंदिर निर्माण में एक ईंट हमारे परिवार के नाम की भी लगेगी। इसके साथ ही सीएम शिवराज ने कहा कि भारत में राम मंदिर नहीं राष्ट्रीय मंदिर का निर्माण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राष्ट्रीय राम के बिना कभी नहीं पहचाना जा सकता है। श्रीराम हमारे आराध्य हैं और यह सौभाग्य की बात है कि भारत के जन सहयोग से ही श्रीराम मंदिर का निर्माण किया जा रहा है।

Read More: ग्रामीण क्षेत्रों में निरीक्षण के लिये गए निगम आयुक्त ने दुकानदारों के सामने जोड़े हाथ

मध्य प्रदेश की बात करें तो प्रदेश में 60,000 टोलियां तैयार की गई है। यह टोलियां 6.5 करोड़ लोगों तक पहुंचकर उनसे धन संचय करेगी। वही 21,000 टोलियां सिर्फ मध्य भारत के भोपाल, ग्वालियर और महाकौशल के 35 लाख परिवारों से संपर्क करेगी।

बता दें कि 15 जनवरी से 15 फरवरी तक श्री राम मंदिर के लिए निधी संग्रह के लिए अभियान चलाया जाएगा। जिसमें देश के 13 करोड़ परिवारों से संपर्क किया जाएगा। इस दौरान विश्व हिंदू परिषद (VHP) और बजरंग दल के कार्यकर्ता घर-घर जाकर निधि संग्रह का अभियान शुरू करेंगे। वहीं अब तक मंदिर निर्माण के लिए मध्य भारत से 10 करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि जमा हो चुकी है। इसके लिए राम जन्मभूमि तीर्थ न्यास की ओर से 10 रुपए से लेकर 2000 रुपए तक का कूपन जारी किया गया है। वही 20,000 से ज्यादा का सहयोग देने वाले को चेक के माध्यम से राशि जमा ली जा रही है।