Jabalpur: फीडर लाइन क्षतिग्रस्त, संभागायुक्त ने किया निरीक्षण, अधिकारियों को 24 घंटे काम करने के निर्देश

जबलपुर।संदीप शर्मा

सड़क मेंटेनेंस करने के दौरान लोक निर्माण विभाग की एक छोटी सी लापरवाही ने आधे शहर को पानी से महरूम कर दिया है। लिहाजा अब बीते 4 दिनों तक जबलपुर में 16 टंकियां में पानी पीने को नहीं मिलेगा। इस बड़ी लापरवाही को देखते हुए जबलपुर संभाग कमिश्नर महेश चंद्र चौधरी शनिवार की शाम मेडिकल कॉलेज स्थित इलाके में निरीक्षण करने अचानक ही पहुंच गए। संभागायुक्त ने लोक निर्माण विभाग की इस लापरवाही को गंभीर माना है। लिहाजा उन्होंने कहा कि जिसने भी यह लापरवाही की है उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

दरअसल रामनगरा प्लांट की मुख्य लाइन को कल लोक निर्माण विभाग ने क्षतिग्रस्त कर दिया था जिसके चलते शहर की करीब 16 टंकियों में पानी नहीं भर पाया और यही वजह थी कि करीब आधा शहर शुक्रवार की शाम से बूंद-बूंद पानी को तरस रहा है। शनिवार की शाम को अचानक ही संभागायुक्त महेश चंद्र चौधरी मौके पर पहुंचकर पूरे काम का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने नगर निगम को निर्देशित किया है कि भले ही 24 घंटे काम करना पड़े पर जल्द से जल्द क्षतिग्रस्त हुई पाइपलाइन को सुधारा जाए।

संभागायुक्त ने कहा की रामनगरा प्लांट से शुरू की गई स्टैंड बाय पाइपलाइन को भी जल्द ही पूरा कर दिया जाएगा।संभागायुक्त महेशचंद्र चौधरी की माने तो नगर निगम को निर्देशित किया गया है कि स्टैंड बाय पाइपलाइन में तेजी से काम किया जाए जिससे कि आगामी समय में जबलपुर शहर में पानी की किल्लत ना हो। गौरतलब है कि क्षतिग्रस्त हुई पाइपलाइन के कारण जबलपुर शहर में आगामी 4 दिनों तक पानी की किल्लत बनी रहेगी ऐसे में करीब पानी की 16 टँकीया जो कि 800000 लोगों के घरों तक पानी पहुंचाया करती थी वो नहीं भर पाएगी। कहा जा सकता है कि गर्मी के समय में जबलपुर वासियों को अब आगामी 4 दिनों तक पानी की किल्लत जूझना पड़ेगा।