Domestic Violence

भोपाल डेस्क – प्रदेश में तेजी से बढ़ती घरेलू हिंसा (Domestic Violence) की घटनाओं को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने डीजीपी को निर्देश दिए हैं कि वे आईपीसी की धाराओं के अलावा इस मामले में नया कानून बनाने की दिशा में कार्य करें। दरअसल पिछले 15 दिनों में मध्यप्रदेश में घरेलू हिंसा (Domestic Violence) की 3 बड़ी घटनाओं ने लोगों के दिल दहला दिए हैं|

MP Corona Alert: 24 घंटे में मिले 2091 मरीज, त्योहारों के लिए आज जारी होगी गाइडलाइन

पहली घटना भोपाल में 9 मार्च 2021 की है। निशातपुरा थाना क्षेत्र में एक पति ने दरिंदगी की सारी सीमाएं लांघ दी। सिवनी मालवा के रहने वाले प्रीतम सिसोदिया को पत्नी के चरित्र पर शक था और अक्सर शराब के नशे में उसके साथ मारपीट करता रहता था। लेकिन 9 तारीख की रात को उसने दरिंदगी की हद कर डाली। फरसे से उसने पत्नी पर कई वार किए और उसके बाएं हाथ की हथेली और बाएं पैर का पंजा काट दिया। घुटने के पास भी पैर पर वार किया। पत्नी की चीख पुकार सुनकर पड़ोसी पहुंचे तो हिंसक पति का रूप और महिला की हालत देखकर दहल गए। तुरंत पुलिस को खबर की गई और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। पत्नी का इलाज हमीदिया अस्पताल में चल रहा है।

भारत बंद: सड़कों पर निकले किसान, प्रधानमंत्री का पुतला फूंका, बाज़ार रहा बंद

दूसरी घटना 22 मार्च की है जिसमें सागर की रहने वाली 20 साल की आरती गोन्ड का उसकी पति रणवीर से विवाद हो गया था। पति पहले भी उससे मारपीट करता रहता था लेकिन 22 तारीख की रात तो उसने हद कर दी। रणवीर अपनी पत्नी को जंगल से लकड़ी लाने के बहाने साथ ले गया और वहां जाकर पहले उससे बीड़ी पी और पत्नी से पूछा कि कहां से काटू। पति के इरादों से अनजान पत्नी ने सहजता से कहा कि ऊपर से। और देखते ही देखते रणवीर ने अपनी पत्नी के दोनों हाथ काट दिए। बमुश्किल महिला अपने कटे हुए हाथ लेकर घर पहुंची और ससुर और जेठानी पीड़िता को लेकर हमीदिया अस्पताल पहुंचे। हाथ पूरी तरह अलग नहीं हुए थे फिलहाल उन्हें जोड़ दिया गया है। लेकिन वे ठीक हो पाएंगे या नहीं, यह कुछ दिन बाद मालूम पड़ेगा।

घरेलू गैस उपभोक्ताओं के पास बड़ा मौका, 800 की कीमत वाले सिलेंडर सिर्फ 119 में, जाने यहां

तीसरी घटना बैतूल की है। चिचोली के सोनी मोहल्ला तिलक वार्ड में स्थित राजू वंशकार का पत्नी कविता से छोटी-छोटी बातों पर विवाद होता रहता था. बुधवार की रात उसका पत्नी से फिर विवाद हुआ और गुरुवार की सुबह 5 बजे राजू बिस्तर से उठा, पास रखी कुल्हाड़ी उठाई और सो रही पत्नी पर हमला कर दिया। उसने पत्नी के चेहरे पर भी वार किया। हमले में कविता का एक हाथ पूरी तरह कट गया जबकि दूसरे हाथ की उंगलियां कट गई। गंभीर अवस्था में कविता को भोपाल रेफर किया गया है। पुलिस का कहना है कि राजू मानसिक रूप से संतुलित नहीं है।

आवास योजना में गड़बड़ी के बाद CEO ने रोजगार सहायक की संविदा सेवा की समाप्त

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इन घटनाओं को बेहद गंभीर बताया है। शुक्रवार को स्मार्ट सिटी के पास पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि यह सामान्य घटनाये नहीं बल्कि विश्वास की हत्या है। सात फेरे का वचन लेकर जीवन बिताने वाले पतियों ने इस तरह के कुकृत्य किए हैं जो क्षमा योग्य नहीं है। उन्होंने डीजीपी को निर्देश दिए हैं कि न केवल आईपीसी की धाराओं के तहत मामले दर्ज किए जाएं बल्कि इस मामले में एक नया कानून बनाने की पहल भी की जाए। इन तीनों मामले में दोषी पतियों के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले चलाकर उन्हें जल्द सजा दिलाने की जरूरत पर भी शिवराज ने जोर दिया। उनका कहना है कि घरेलू हिंसा (Domestic Violence) के नाम पर पतियों के अत्याचार बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे।