मध्य प्रदेश : पहली नजर में अपनी पत्नी को दिल दे बैठे थे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, मैरिज एनिवर्सरी पर पत्नी ने शेयर की तस्वीर

मामा की लव स्टोरी भी बहुत दिलचस्प रही है। जनता की सेवा के लिए कभी ना शादी करने का प्रण लेने वाले शिवराज सिंह चौहान एक ही नजर में साधना को अपना दिल दे बैठे थे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज 5 मई को अपनी शादी की 30वीं सालगिरह सेलिब्रेट कर रहे है, इस मौके पर उनकी पत्नी साधना सिंह चौहान ने दो तस्वीर शेयर की, जिसमें एक उनकी शादी की है और दूसरी आदिवासियों के एक पर्व के दौरान खींची गई थी। वैसे मामा की लव स्टोरी भी बहुत दिलचस्प रही है। जनता की सेवा के लिए कभी ना शादी करने का प्रण लेने वाले शिवराज सिंह चौहान एक ही नजर में साधना को अपना दिल दे बैठे थे।

बहन ने साधना से मिलवाया

जैसा बताया गया कि शिवराज कभी शादी नहीं करने वाले थे लेकिन अपनी बहन के दवाब के चलते वह साधना से मिलने गए और अपना दिल हार गए। इसके बाद शिवराज साधना सिंह से छिप-छिप कर मिलने लगे और उन्हें चिट्ठी भी लिखने लगे। मुख्यमंत्री ने कई बार बताया है कि प्यार का पहला इजहार भी उन्होंने पत्र लिखकर ही किया था। यही नहीं, साधना ने भी उन्हें खुब लव लेटर लिखे। इसके बाद घरवालों की सहमति से 6 मई 1992 को शिवराज और साधना शादी के बंधन में बंध गए थे।

एक इंटरव्यू में शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि हर सफल परुष के पीछे एक महिला होती है और मेरी सफलता के पीछे मेरी पत्नी साधना का ही हाथ है। उन्होंने कहा था कि आज तक साधना ने कभी कोई जिद्द नहीं की और हर तरह की जवाबदारी उसी ने संभाली।

कई बच्चियों को ले रखा है गोद

बता दे शिवराज और साधना के दो बच्चे हैं। इसके अलावा उन्होंने कई बेटियों को भी गोद ले रखा है। जिनकी पूरी जिम्मेदारी दोनों मिलकर निभाते है। पिछले साल विदिशा में दो बेटियों की शादी में शिवराज और साधना सिंह ने मां-पिता का धर्म निभाते हुए कन्यादान खुद ही किया था।