आखिर किसने उड़ाई सुमित्रा महाजन के निधन की अफवाह, जांच की मांग

Sumitra Mahajan
Sumitra Mahajan

इन्दौर डेस्क रिपोर्ट।आकाश धोलपुरे- गुरुवार की देर रात लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के निधन की खबर ने लोगों को स्तब्ध कर दिया। सोशल मीडिया से पर तेजी से हुई वायरल इस खबर पर कई नेताओं ने ट्वीट तक कर दिए। हालाकि ताई पूर्ण रूप से स्वस्थ है।

डॉक्टर की पहल सराहनीय, योगा और मोटिवेशन से ठीक हो रहे कोरोना पॉजिटिव मरीज

सुमित्रा महाजन के बारे में तेजी से सोशल मीडिया में यह खबर आई कि वे अब इस दुनिया में नहीं रही। कांग्रेस नेता शशि थरूर ने तो ट्वीट करके उन्हें श्रद्धांजलि तक दे डाली। यह खबर कई प्रतिष्ठित मीडिया समूहों पर भी प्रकाशित हो गई। इंदौर में जैसे ही यह खबर पहुंची, अचानक गहरा सन्नाटा सा छा गया। हालाकि उसके बाद एक के बाद एक कर सुमित्रा महाजन के नजदीकी लोगों ने उनसे बातचीत के ऑडियो वायरल किए जिससे जाकर लोगों की जान में जान आई। दरअसल सुमित्रा महाजन को गुरुवार को हल्का सा बुखार आने के कारण एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उन्हें कुछ और जांचों के लिए भर्ती कर लिया गया। था कुछ देर बाद ही उनके निधन की अफवाह है तेजी के साथ फैलनेने लगी और कई वाट्स एप समूहो में भी खबर आ गई। एक के बाद एक करके ट्वीट आने लगे और ताई को श्रद्धांजलि दी जाने लगी।

संगीतकार नदीम-श्रवण जोड़ी के श्रवण राठौड़ का कोरोना से निधन

इसके बाद बीजेपी के नेता कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया और लोगों को बताया कि ताई एकदम स्वस्थ हैं और भगवान उन्हें लंबी उम्र दे। ताई के पुत्र ने इन अफवाहों का खंडन किया और बताया कि वे अस्पताल में बेहतर स्थिति में है। बीजेपी नेता और प्रदेश मंत्री सुरेंद्र शर्मा ने ट्वीट करके शशि थरूर पर हमला किया और कहा कि “हमेशा सुरूर में रहने वाले शशि थरूर ने रात के नशे में पूर्व लोकसभा अध्यक्ष आदरणीय सुमित्रा महाजन को जीते जी श्रद्धांजलि दे डाली है। आदरणीय ताई पूरी तरह स्वस्थ है। ईश्वर शशि थरूर जैसे लोगों को सद्बुद्धि दे और ताई को लंबी उम्र।” बीजेपी नेता ने इस पूरी अफवाह के पीछे किसका हाथ है और किसने इससे सोशल मीडिया पर वायरल किया, इसकी जांच की भी पुलिस से मांग की है। उधर सुमित्रा महाजन ने भी कहा है कि उनके निधन की खबर बिना पुष्टि के मीडिया समूह में कैसे चलाई गई, इस बात पर सरकार को संज्ञान लेना चाहिए।