New Rules: 1 जुलाई से बदल गए एनपीएस, क्रेडिट कार्ड समेत पैसों से जुड़े ये 5 नियम, आजमन पर पड़ेगा असर, पढ़ें पूरी खबर

जुलाई में पैसों से जुड़े कई बदलाव हुआ है। जिसका प्रभाव रसोई घर से लेकर मोबाइल फोन तक पड़ेगा।

Manisha Kumari Pandey
Published on -
new rules

New Rules From 1 July 2024: जुलाई में बजट की घोषणा से पहले ही कई वित्तीय बदलाव हुए हैं। नियमों में बदलाव का सीधा प्रभाव आम आदमी के जेब पर पड़ेगा।  आईसीआईसीआई बैंक, यस बैंक, एसबीआई और अन्य कई बैंकों ने क्रेडिट कार्ड से जुड़े नियमों में बदलाव कर दिया है। रसोई गैस के कीमतों में भी संशोधन हुआ है। जुलाई में मोबाइल रिचार्ज भी महंगा होने वाला है। एनपीएस के नियमों को भी बदला गया है।

एनपीएस से जुड़े नए नियम 

नेशनल पेशनल सिस्टम में बदला बदलाव हुआ है। नए नियम 1 जुलाई 2024 से प्रभावी होंगे। अब सौदे वाले दिन ही निपटान होगा। निवेश करने के दिन उस दिन का मूल्य निवेशकों को मिल जाएगा। इससे पहले निवेश के एक दिन बाद निपटान होता था।

एलपीजी सिलेंडर के दाम घटे 

1 जुलाई को ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने 19 केजी वाले कमर्शियल गैस सिलेंडर के कीमतों में 30 रुपये की कटौती कर दी है। हालांकि घरेलू गैस सिलेंडर के कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

क्रेडिट कार्ड नियम बदलाव

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा जारी किए निर्देशों के तहत 1 जुलाई से क्रेडिट कार्ड के बिल पीमत में बदलाव होगा। अब Credit Card पेमेंट भारत बिल प्रणाली (BBPS) के जरिए करना जरूरी होगा। अब तक इस कार्य के लिए फोनपे, बिलडेस्क और अन्य प्लेटफ़ॉर्म का इस्तेमाल होता आ रहा है।

महंगी हुई टाटा मोटर्स की गाड़ियां 

टाटा मोटर्स ने जुलाई में वाहनों के कीमत में इजाफा कर दिया है। 1 जुलाई से कारों के कीमत में 2% की वृद्धि लगी होगी। मॉडल और वेरिएन्ट के हिसाब से थोड़ा अंतर देखने को मिल सकता है।

मोबाइल रिचार्ज हुआ महंगा 

जुलाई में जियो, एयरटेल और वोडाफोन ने अपने रिचार्ज महंगे कर दिए हैं। हालांकि नए रिचार्ज 3 जुलाई से लागू होंगे। अब जियो के बेसिक प्लान के लिए 155 रुपये नहीं बल्कि 189 रुपये का भुगतान करना होगा।

पीएनबी बैंक खाता नियम 

पंजाब नेशनल बैंक 1 जुलाई से उन बैंक अकाउंट को बंद करने का ऐलान कर दिया है, जिनका इस्तेमाल पिछले तीन साल से नहीं हुआ है। बैंक के इस फैसले से लाखों बैंक पर प्रभाव पड़ेगा। बैंक खाता जाकर केवाईसी की प्रक्रिया पूरी करने के बाद बैंक अकाउंट फिर से एक्टिव होगा।


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News