New Rules: 1 जुलाई से बदल जाएंगे ये 5 नियम, आम आदमी पर भी पड़ेगा प्रभाव, पढ़ें पूरी खबर 

जुलाई में कई बड़े बदलाव होंगे। नए नियम लागू होंगे। जिसका असर आमजन पर भी पड़ेगा।

Manisha Kumari Pandey
Published on -
new rules july 1 2024

New Rules: जून का महीना खत्म होने में बस 5 दिन ही बाकी हैं। जुलाई माह बेहद की खास होने वाला है। क्योंकि कई नियमों में बदलाव होने वाला है। इस लिस्ट में जीएसटी, बैंकिंग, आधार कार्ड, क्रेडिट कार्ड, आईपीसी कानून, बीएनएस सिस्टम और अन्य कई चीजें शामिल हैं। 1 जुलाई से रेलवे रिजर्वेशन में भी बड़ा सुधार होगा। इन बदलावों का प्रभाव आमजन पर भी पड़ेगी। किसी से लाभ तो किसी से नुकसान होगा। आइए जानें आगले महीने कौन-कौन से बदलाव होंगे-

क्रेडिट कार्ड के नए  नियम

आरबीआई ने क्रेडिट कार्ड से संबंधित नियमों में संशोधन किया है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने वित्तीय संस्थानों की समीक्षा और स्वीकृति के बाद कुछ बदलाव किए हैं। नए नियमों के तहत अब क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल पर बिना स्वीकृति शुल्क नहीं लगेगा।

जीएसटी कानून में होगा बड़ा बदलाव

जीएसटी कानून से जुड़े नियमों में भी बदलाव होने जा रहा है। जिसका लाभ व्यापारियों को होगा। इनपुट टैक्स क्रेडिट (ITC) पर लगने वाले ब्याज को 18% से घटाकर 12% कर दिया गया है। नए नियम के परिणाम स्वरूप कोई भी गलती होने पर वित्तीय बोझ नहीं ज्यादा नहीं होगा। इसके अलावा जीएसटीअरर-3बी फॉर्म में बदलाव होने  जा रहा है। इस फॉर्म को अब यूजर्स के अनुसार बनाया गया है। इससे गलतियों की संभावना कम होगी। नए नियम 1 जून से लागू होंगे।

बीएनएस सिस्टम में नया फीचर

ट्रैकिंग को सुगम और आसान बनाने के लिए बीएनएस सिस्टम में बदलाव होने जा रहा है। नए नियम के तहत अब अभी सरकारी काम और दस्तावेजों को एक नया यूनिक आईडी नंबर दिया जाएगा। इससे सरकारी दफ्तरों आयुर अन्य सेवाओं और भुगतान में मददगार साबित हो सकता है।

रेलवे रिजर्वेशन से जुड़े नियमों में बदलाव 

भारतीय रेलवे ने टिकट बुकिंग और कन्फॉर्मेशन को लेकर बड़ा कदम उठाया है। 1 जुलाई से यात्री अपनी सीट पर बैठे-बैठे ही  बुकिंग कर पाएंगे। साथ ही टिकट को रद्द और फिर से प्राप्त कर सकेंगे। इतना ही नहीं कई नई सुविधाओं का लाभ भी मिलेगा।

FIR से जुड़े से नियम 

कानूनी प्रक्रियाओं को तेज और न्यायसंगत बनाने के लिए सरकार भारतीय दंड संहिता और आपराधिक प्रक्रिया संहिता में बड़ा बदलाव कर सकती है। नए नियम 1 जुलाई से लागू हो सकते हैं। साइबर अपराधों के खिलाफ सख्त नियम लागू होंगे। साथ ही अपराधियों के खिलाफ जल्द कार्रवाई की जाएगी।


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News