Upcoming IPO: जल्द खुलेगा OYO, स्नैपडील समेत इन 5 दिग्गज कंपनियों का आईपीओ, यहाँ देखें लिस्ट

Manisha Kumari Pandey
Published on -

Upcoming IPO 2023: यदि आप कम रिस्क के ग्रे मार्केट में निवेश करने की इच्छा रखते हैं, तो खबर आपके काम की साबित हो सकती है। इस वित्तवर्ष कई दिग्गज कंपनियां इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग लाने की तैयारियों में जुटी हुई है। इन आईपीओ में निवेश करके काम शानदार मुनाफा कमा सकते हैं। आइए जानें 2023-24 में आने वाले आईपीओ के बारे में विस्तार से-

स्नैपडील आईपीओ

स्नैपडील देश के प्रसिद्ध ई-कॉमर्स कंपनी है। कंपनी बहुत जल्द अपना इश्यू जारी कर सकती है। हालांकि अब तक कोई भी तारीख तय नहीं हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक आईपीओ का साइज़ 1250 करोड़ रुपये तक हो सकट है। कंपनी ने अब तक इस बारे में कोई भी आधिकारिक घोषणा नहीं की है।

OYO आईपीओ

होटल का कारोबार करने वाली कंपनी है। इस वित्तवर्ष कंपनी अपना आईपीओ लाने की तैयारी में है। इश्यू का साइज़ 8430 करोड़ रुपये बताया जा रहा है। जिसके लिए कंपनी ने सेबी के पास ड्राफ्ट पेपर जमा किया है। आईपीओ की साइज़ भी कम हो सकती है।

Tata Technologies आईपीओ

इस वित्तवर्ष टाटा टेक्नोलॉजीज भी अपना आईपीओ लाने की तैयारी में है। ऑफर फॉर सेल के तहत शेयरों को जारी किया जाएगा। कंपनी मार्केट रेगुलेटर सेबी के पास ड्राफ्ट पेपर्स भी जमा कर दिया है।

Go Airlines आईपीओ

गो एयरलाइंस भारत का प्रसिद्ध बजट एयरलाइन कंपनी है। कंपनी 3600 करोड़ रुपये के इश्यू को जारी करेगी। हाल ही में इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग के लिए कंपनी ने सेबी के पास ड्राफ्ट जमा किया है।

MobiKwik आईपीओ

यह देश के प्रसिद्ध डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म कंपनियों में से एक है। मोबीक्विक बहुत जल्द अपना आईपीओ ओपन कर सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक इश्यू के जरिए 3600 करोड़ रुपये जुटाने का टारगेट रखा गया है। हाल ही में ऑफरिंग के लिए कंपनी ने सेबी के पास ड्राफ्ट पेपर जमा किये हैं।

(Disclaimer: इस लेख का उद्देश्य केवल जानकारी साझा करना है। MP Breaking News शेयर मार्केट या आईपीओ में निवेश करने की सलाह नहीं देता। विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।)

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News