CBSE Exam 2024: सीबीएसई 10वीं-12वीं सप्लीमेंट्री परीक्षा की गाइडलाइंस और फाइनल डेटशीट जारी, 15 जुलाई से एग्जाम शुरू, जानें डिटेल

सीबीएसई 10वीं और 12वीं की सप्लीमेंट्री परीक्षा जुलाई में होगी। सीबीएसई ने परीक्षा से संबंधित महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश और फाइनल डेटशीट जारी की है।

CBSE Supplementary Exam 2024

CBSE Supplementary Exam 2024: केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कक्षा 10वीं और 12वीं सप्लीमेंट्री परीक्षा (CBSE Compartment Exam 2024) की फाइनल डेटशीट जारी कर दी है। साथ ही परीक्षा से संबंधित महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं। जिसका पालन करना छात्रों के लिए अनिवार्य होगा। पूरक परीक्षा का आरंभ 15 जुलाई से होगा। कक्षा 12वीं के लिए सभी विषयों का कम्पार्टमेंट एग्जाम एक ही दिन में समाप्त हो जाएगा। वहीं 10 कम्पार्टमेंट परीक्षा 22 जुलाई तक चलेगा।

परीक्षा को लेकर कुछ महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश

सीबीएसई ने छात्रों को बोर्ड द्वारा जारी सभी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया है। साथ अभिभावकों को स्कूल और ऑफिशियल वेबसाइट के टच में रहने की सलाह भी दी है। परीक्षा केंद्र पर किसी प्रकार के कम्यूनिकेशन डिवाइस को ले जाने की अनुमति नहीं है। यदि किसी विद्यार्थी के पास कम्यूनिकेशन डिवाइस मिलता है तो उसके खिलाफ यूएफएम नियमों के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी। प्रश्न पत्र को पढ़ने और समझने के लिए 15 मिनट का समय दिया जाएगा।

कक्षा 12वीं सप्लीमेंट्री परीक्षा डेटशीट

15 जुलाई को सीबीएसई बोर्ड 12वीं सप्लीमेंट्री बोर्ड परीक्षा का आयोजन दो शिफ्टों में होगा।  सुबह 10:30 बजे से लेकर 12:30 बजे तक हिंदुस्तानी म्यूजिक वोकल, हिंदुस्तानी म्यूजिक MEL INST, पेंटिंग, स्कल्पचर, अप्लाइड आर्ट्स, भरतनाट्यम, योग और डाटा साइंस की परीक्षा आयोजित की जाएगी। बाकी अन्य विषयों की परीक्षा सुबह 10:30 बजे से लेकर 1:30 बजे तक आयोजित होगी।

cbse
cbse


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News