UPSC CAPF 2023: यूपीएससी ने जारी की नई अधिसूचना, 322 पदों पर होगी भर्ती, 16 मई तक करें आवेदन

upsc cse notification 2024

UPSC CAPF 2023: संघ लोक सेवा आयोग (Union Pulic Service Commission) ने बुधवार को सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्सेज एग्जामिनेशन 2023 (सीएपीएफ) के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर नोटिफिकेशन चेक कर सकते हैं। इस परीक्षा के आधार पर विभिन्न विभागों में उम्मीदवारों की भर्ती होगी। जिसमें बीएसएफ़, ITBP और SSB शामिल हैं। असिस्टेंट कमांडेंट के पोस्ट ओर चयनित कैंडीडेट्स को नियुक्त किया जाएगा।

रिक्त पदों की संख्या

कुल वैकेंसी की संख्या 322 है। बीएसएफ़ में 86 पद, सीआईएसएस में 91 पद, सीआरपीएफ में 55 पद, एसएसबी में 30 पद और आईटीबीपी में 60 पद रिक्त हैं।

पात्रता और आवेदन की अंतिम तिथि

आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। उम्मीदवार 16 मई, 2023 तक आवेदन कर सकते हैं। अप्लाइ करने के लिए उम्मीदवारों के पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक की डिग्री होना अनिवार्य होगा। न्यूनतम आयु सीमा 20 साल और अधिकतम 25 साल निर्धारित की गई है। पात्रता से जुड़ी अन्य जानकारी के आप आधिकारिक अधिसूचना देख सकते हैं।

लिखित परीक्षा का आयोजन

लिखित परीक्षा की तारीख भी सामने आ चुकी है। परीक्षा का आयोजन 6 अगस्त, 2023 को होगा। एग्जाम में दो पेपर्स शामिल किये गए हैं। पहला पेपर सुबह 10 बजे लेकर दोपहर 12 बजे तक होगा। वहीं दूसरा पेपर दोपहर 2 बजे से लेकर शाम 5 तक होगा।

ऐसे करें आवेदन

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट upsconline.nic.in पर जाएं।
  • होमपेज पर “UPSC CAPF AC 2023 Notification” के लिंक पर क्लिक करें।
  • अब “Apply Online” के लिंक पर क्लिक करें।
  • फिर “New Registration” के लिंक पर क्लिक करें।
  • सारी जानकारी दर्ज करके आवेदन प्रक्रिया हो पूरा करें।

About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News