मंडला में 9 माह की बच्ची ने दी कोरोना को मात

14 अप्रैल को मासूम की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी जिसके बाद हसते खेलते और सारी सावधानियों और दवाइयों के साथ बच्ची ने कोरोना को हरा दिया और पूरी तरह ठीक हो गई।

मंडला, बाबूलाल सारंग। इस समय पूरी दुनिया तांडव मचा रहे कोरोना वायरस (Corona virus) को मंडला में 9 महीने की बच्ची ने मात दे दी है। 14 अप्रैल को मासूम की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी जिसके बाद हसते खेलते और सारी सावधानियों और दवाइयों के साथ बच्ची ने कोरोना को हरा दिया और पूरी तरह ठीक हो गई।

यह भी पढ़ें…टेक महिंद्रा और रीगेन बायोसाइसेंज कराएंगे कोरोना की दवाई का पेटेंट

पूरे प्रदेश की तरह मंडला (Mandla) जिले में भी कोरोना संक्रमण अपने पांव पसारे हुए है। जिसके बाद जिले में प्रशासन द्वारा कोरोना से निपटने जरूरी इंतजाम किए जा रहे हैं। वही इन इंतजामों के सुखद परिणाम के फलस्वरूप जिले में संक्रमित मरीज लगातार ठीक होकर अपने घर लौट रहे हैं और वही कोरोना को हराने वालों में अब बीजाडांडी परियोजना के अंतर्गत ग्राम बरगा की 9 माह की बच्ची का नाम भी जुड़ गया है। जिसने बड़ी ही बहादुरी से कोरोना को हरा दिया। जानकारी के मुताबिक इस बालिका की मां जो कि होम आइसोलेशन में थी उसके साथ ही बच्ची भी रह रही थी, जब बच्ची को शुरूआती कोरोना के लक्षण दिखे तो जांच करवाई गई जिसके बाद 14 अप्रैल को बालिका की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद घरवालों एवं बच्ची को होम आइसोलेट (Home isolate) किया गया और मासूम की मां को महिला एवं बाल विकास विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा नियमित रूप से दवाईयां, पोषण आहार एवं अन्य जरूरी सलाह प्रदान की जाती रही। इसी प्रकार समय-समय पर बालिका एवं उसकी मां की स्वास्थ्य जांच भी की गई। वही आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अंजना साहू द्वारा बच्ची के स्वस्थ्य होने तक नियमित पोषण आहार भी दिया गया, जिसके बाद बच्ची अब पूर्णतः स्वस्थ हो गई।

यह भी पढ़ें…कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद डॉक्टर ने किया लोगों का इलाज, तहसीलदार ने 10 हजार का लगाया जुर्माना

कोरोना को निश्चित रूप से हराया जा सकता है। जिले में कोरोना को हराकर स्वस्थ होने वाले मरीजों का आंकड़ा दिन-ब-दिन बढ़ रहा है। सही समय पर जांच तथा निर्देशानुसार दवाइयां एवं जरूरी देखभाल से 9 माह की बालिका ने कोरोना को हराया है। हम सभी सकारात्मक सोच, समय-समय पर स्वास्थ्य जांच, जरूरी दवाइयों एवं आहार के सेवन से कोरोना को हरा सकते हैं। बस जरूरत है सकारात्मक विचारों की।