डॉक्टर्स ने मांगी अस्पतालों में पुलिस सुरक्षा, एमटीए ने लिखा मुख्यमंत्री को पत्र

वर्तमान हालात देखकर उन्हें भय रहता है कि मरीज के परिजन कहीं उन पर हमला ना कर दें इसलिए अस्पतालों के गेट, वार्ड आदि में पुलिस सुरक्षा प्रदान की जाए।      

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। कोरोना में प्रदेश के अस्पतालों (Hospitals) में बिगड़ रहे हालात को देखते हुए डॉक्टर्स (Doctors) ने पुलिस सुरक्षा (Police Protection) की मांग की है। सेन्ट्रल मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन (CMTA) ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan ) को पत्र लिखा है और मांग की है कि प्रदेश के हालात को देखते हुए अस्पतालों में गेट पर और वार्ड में पुलिस तैनात की जाये जिससे यदि मरीज के परिजन आक्रोशित होकर डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ पर हमला करें तो उसे रोका जा सके।

ग्वालियर में मंगलवार को जयारोग्य अस्पताल समूह के कमला राजा महिला एवं शिशु रोग अस्पताल में मची ऑक्सीजन की कमी से मची अफरा तफरी के बाद परिजन डॉक्टर्स पर आक्रामक हो गए। वे अभद्रता करने पर आमदा हो गए , परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। अचानक बनी ऐसी स्थितियों के चलते डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ वार्ड एवं  अस्पताल छोड़कर भाग गए  और उन्होंने काम नहीं करने का फैसला कर लिया । ऐसी नाजुक स्थिति में डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ के हड़ताल के फैसले ने मेडिकल कॉलेज, जयारोग्य अस्पताल समूह और जिला प्रशासन को चिंता में डाल दिया।

ये भी पढ़ें – सरकारी अस्पताल में ऑक्सीजन ख़त्म, पांच की मौत! टैंकर पहुँचाने विधायक ने लगाया गाड़ियों में धक्का

कमला राजा अस्पताल छोड़कर डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ मेडिकल कॉलेज पहुँच गए और डीन को अपनी बात बताई। डीन ने उनकी बात सुनने के बाद जिला प्रशासन के बड़े अधिकारियों से बात की और भरोसा दिलाया कि अस्पताल में पुलिस की व्यवस्था की जाएगी।  थोड़ी देर बाद कमला राजा अस्पताल में पुलिस तैनात कर दी गई। मेडिकल कॉलेज के वरिष्ठ चिकित्सकों ने डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ को वापस वार्ड में जाने का अनुरोध किया जिसके बाद वे वापस अस्पताल चले गए और अपना हड़ताल का फैसला वापस ले लिया।

ये भी पढ़ें – कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का स्वास्थ्य ख़राब , सोशल मीडिया पर किया साझा

उधर मंगलवार को ग्वालियर में हुई घटना ने सेन्ट्रल मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन को चिंता में डाल दिया है।  घटना के बाद एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर प्रदेश के मेडिकल कॉलेज के अस्पतालों में पुलिस सुरक्षा की मांग की है।

डॉक्टर्स ने मांगी अस्पतालों में पुलिस सुरक्षा, एमटीए ने लिखा मुख्यमंत्री को पत्र

एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ सुनील अग्रवाल का कहना कोरोना की स्थिति में प्रदेश में दवा, ऑक्सीजन, स्टाफ सब की कमी है। बावजूद इसके हमारे डॉक्टर्स मेडिकल स्टाफ जी जान लगाकर दिन रात मरीजों की सेवा कर रहा है लेकिन वर्तमान हालात देखकर उन्हें भय रहता है कि मरीज के परिजन कहीं उन पर हमला ना कर दें इसलिए अस्पतालों के गेट, वार्ड आदि में पुलिस सुरक्षा प्रदान की जाए।