Balaghat EOW Raid : रिटायर्ड असिस्टेंट इंजीनियर के घर छापा, 280 प्रतिशत से अधिक अवैध संपत्ति का खुलासा, कार्रवाई जारी

फिलहाल ईओडब्ल्यू का सर्च ऑपरेशन जारी है।

बालाघाट, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में भ्रष्ट अधिकारी-कर्मचारियों की धड़-पकड़ शुरू हो गई है। दरअसल बीते दिनों EOW द्वारा जबलपुर और राजधानी भोपाल में बड़ी कार्रवाई की गई थी। वहीं आज सुबह बालाघाट में EOW टीम (Balaghat EOW Raid) का एक्शन देखने को मिला। दरअसल तड़के सुबह EOW की टीम ने बालाघाट स्थित प्रेमनगर में रिटायर्ड सहायक यंत्री के घर पर छापा मारा। आय से अधिक संपत्ति मामले में यह कार्रवाई की गई है।

जानकारी के मुताबिक रिटायर सहायक यंत्री के पास उनके वैधानिक आय की तुलना में 280% से ज्यादा की संपत्ति उजागर हुई है। वही ईओडब्ल्यू का सर्च ऑपरेशन जारी है। प्रारंभिक कार्रवाई में अलग-अलग जगह पर 12 प्लॉट के दस्तावेज बरामद किए गए हैं। इसके अलावा कई आलीशान मकान और मोटरसाइकिल की भी जानकारी सामने आई है।

Read More : MPPEB : उम्मीदवारों के लिए महत्वपूर्ण सूचना, जल्द होगी हजार से ज्यादा पदों पर भर्ती, आई नई अपडेट, जानें पात्रता और नियम

फिलहाल ईओडब्ल्यू का सर्च ऑपरेशन जारी है। SP देवेंद्र सिंह ने बताया कि विद्युत विभाग में पदस्थ दयाशंकर प्रजापति के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिली थी। जिस पर धारा 13(1) और धारा 13(2) के तहत मामला दर्ज कर जाँच की जा रही हैं। ईओडब्ल्यू को शुरुआती जांच में ही दया शंकर प्रजापति के पास करोड़ों रुपए की बेनामी संपति मिली हैं।

अभी तक की जाँच मे बालाघाट में चार आलीशान मकान मिला है। जिसका एरिया 2880 वर्गफीट,3360 वर्गफीट, 2560 वर्गफीट, 2560 वर्गफीट आंका गया है। इसके अलावा बालाघाट के वार्ड नंबर 2 में 2100-2100 के 2 प्लाट, साथ ही ग्राम बूढ़ी में भी 5 प्लाट, ग्राम गायखुर्दी में 1 प्लाट और बालाघाट मे 5 प्लाट के साथ 1 कार, 3 मोटरसाइकिल भी मिली हैं।

इससे पहले रिटायर्ड असिस्टेंट इंजीनियर के पास आय से अधिक संपत्ति मामले की जानकारी जबलपुर EOW के पास पहुंची थी। जिस पर प्रारंभिक जांच और सत्यता की पुष्टि के बाद ईओडब्ल्यू की टीम ने रिटायर्ड असिस्टेंट इंजीनियर के घर दबिश दी है। इन दिनों मध्यप्रदेश में EOW की टीम द्वारा लगातार अधिकारी कर्मचारियों पर बड़ी कार्रवाई की जा रही है। भ्रष्ट अधिकारी कर्मचारियों की कुंडली निकाले जाने के साथ ही आय से अधिक कमाई करने वाले अफसरों के घर दबिश देकर अवैध संपत्तियों को जब्त किया जा रहा है। फिलहाल बालाघाट असिस्टेंट इंजीनियर के घर छापामार कार्रवाई जारी है। शाम तक अवैध संपत्तियों का खुलासा हो सकता है।