Ration Card : राशन कार्ड धारकों के लिए आई अच्छी खबर, फ्री राशन लेने वाले को मिलेगा लाभ, सरकार ने शुरू की नई सुविधा

अब अप्रैल से जून तक चीनी वितरण का आदेश जारी हो गया है।राशन कार्ड धारक किसी भी समस्या को लेकर टोल फ्री नंबर 1947 पर संपर्क कर सकते हैं।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। राशन कार्ड धारकों (Ration card holders) के लिए बड़ी खबर है। देश में केंद्र और राज्य सरकार की तरफ से फ्री राशन (free ration) और सस्ता राशन की सुविधा लोगों को प्रदान की गई है। देश के करोड़ों लोग इसका लाभ उठा रहे। हालांकि फ्री राशन का फायदा ले रहे लोगों के लिए बेहद महत्वपूर्ण खबर सामने आ रही है। देश ने आधार (AADHAR) जारी करने वाली संस्था ने कहा है कि अब देश भर में आधार के जरिए भी राशन लिया जा सकेगा और इसके लिए राशन कार्ड धारकों को कहीं भी परेशान होने की आवश्यकता नहीं है।

यूआईडीएआई ने अपनी ऑफिशियल ट्वीट से कहा है कि अब आधार के जरिए भी पूरे देश में कहीं भी राशन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। आधार का अपडेट होना बेहद आवश्यक है। दरअसल वन नेशन वन राशन कार्ड के तहत इस सुविधा को शुरू किया गया है। जिसके तहत अब राशन कार्ड धारक अपने आधार कार्ड के जरिए भी राशन सुविधा का लाभ ले सकेंगे। हालांकि इसके लिए आपको अपने आधार कार्ड को अपडेट करना आवश्यक होगा। अपडेट करने के लिए आपको नजदीकी आधार सेंटर पर संपर्क करना होगा।

Read More : MP Weather : 29 अक्टूबर के बाद बदलेगा मौसम, पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय, तापमान में गिरावट, ओस-गुलाबी ठंड की दस्तक, जानें पूर्वानुमान

वहीं राशन कार्ड धारक किसी भी समस्या को लेकर टोल फ्री नंबर 1947 पर संपर्क कर सकते हैं। हालांकि इसी बीच कुछ राशन कार्ड धारकों को बड़ा झटका लगा है। दरअसल दिवाली और छठ पर्व के मौके पर राशन कार्ड धारकों के लिए बेहद बुरी खबर सामने आ रही है। कार्ड धारकों थाली में नमक और चीनी उपलब्ध नहीं कराई जाएगी।

झारखंड राज्य में दीपावली के पहले 900000 कार्ड धारकों चीनी और नमक नहीं मिलेगा। 7 महीने से राज्य के अंत्योदय परिवार के करीब 900000 कार्ड धारक को चीनी उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। हालांकि अब 2 महीने से कार्ड धारक को नमक का भी लाभ नहीं दिया जा रहा है।

इससे पहले राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत अंत्योदय परिवार को राज्य में हर महीने 1 किलो चीनी सब्सिडी रेट में उपलब्ध कराई जाती थी। 2011-12 में नमक वितरण योजना भी शुरू किया गया था। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम से जुड़े परिवार को हर परिवार एक किलोग्राम फ्री आयोडीन युक्त नमक 1 रूपए प्रति किलो की दर से बांटा जा रहा था। कुछ दिनों से इस प्रक्रिया को बंद कर दिया गया है।

बता दें कि राज्य में रिमोट एरिया में काफी कम संख्या में अंत्योदय परिवार है। ऐसे में डीलर दक्षिणी पहुंचाने में वितरण एजेंसी को ट्रांसपोर्टेशन खर्च अधिक देना पड़ा है। जिसके कारण अप्रैल से जून तक के चीनी हितग्राहियों को उपलब्ध नहीं कराया गया। अब अप्रैल से जून तक चीनी वितरण का आदेश जारी हो गया है। जल्द राशन डीलर तक पहुंचा दी जाएगी। जिसके बाद लाभुकों को एक साथ 3 महीने के चीनी का वितरण किया जाएगा।