Healthy Tea For Monsoon: मानसून में बीमारी से बचने के लिए पिएं ये 3 तरह की चाय, जानें फायदे

Healthy Tea For Monsoon : मानसून के मौसम में बीमारियों का प्रकोप बढ़ जाता है और इसलिए इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाना बहुत जरूरी होता है। इम्यून सिस्टम एक प्राकृतिक प्रतिरोधक प्रणाली है जो शरीर को रोगों से लड़ने में मदद करती है। यह कई तत्वों पर निर्भर करता है जैसे कि सही पोषण, स्वस्थ आहार, योग और व्यायाम, पर्यावरण की सुरक्षा, अच्छी नींद, तनाव के प्रबंधन और हाइजीन का पालन। तो चलिए आज हम आपको मानसून में चाय पीने के अनेकों फायदे के बारे में बताते हैं, जिससे आपको फायदा होगा…

Healthy Tea For Monsoon: मानसून में बीमारी से बचने के लिए पिएं ये 3 तरह की चाय, जानें फायदे

सूखी अदरक की चाय

सामग्री

  • सूखी अदरक – 1 बड़ा चम्मच
  • धनिया के बीज – 1 बड़ा चम्मच
  • काली मिर्च – 1 छोटा चम्मच
  • जीरा पाउडर – 2 छोटे चम्मच
  • पानी – 3 कप
  • गुड़ – आवश्यकतानुसार (चाय की मिठास के अनुसार)

विधि

  1. एक पैन में पानी को उबालें।
  2. उबालने पर सूखी अदरक, धनिया के बीज, काली मिर्च और जीरा पाउडर डालें।
  3. सभी सामग्री को अच्छी तरह से मिलाएं और ढककर 15-20 मिनट तक धीमी आंच पर पकाएं।
  4. चाय को छानकर गर्म-गर्म पीएं।
  5. मिठास के लिए आवश्यकतानुसार गुड़ डालें।

तुलसी की चाय

सामग्री

  • पानी – 3 कप
  • तुलसी की पत्तियां – 1/2 कप
  • नींबू का जूस – 2 चम्मच

विधि

  1. एक पैन में पानी डालें और उसमें तुलसी की पत्तियां डालकर उबालें।
  2. पानी उबालने पर उसे धीमी आंच पर 10 मिनट तक उबालें ताकि तुलसी के गुण सही से निकलें।
  3. फिर गैस से पैन को हटा दें और नींबू का जूस डालें।
  4. इसे छानकर पीएं।

मुलेठी की चाय

सामग्री

  • मुलेठी पाउडर – 2 छोटे चम्मच
  • मिश्री – 1/2 चम्मच
  • पानी – 3 कप

विधि

  1. एक पैन में पानी डालें और उसमें मिश्री डालकर हल्की आंच पर उबालें।
  2. पानी उबालने पर मिश्री को अच्छे से घुलने तक उबालें।
  3. अब मुलेठी पाउडर को पानी में मिलाएं।
  4. इसे 5 मिनट तक उबालें, जिससे मुलेठी के गुण सही से निकलें।
  5. फिर इसे छानकर पीएं।

चाय पीने के फायदे

  • चाय में मौजूद तापमान बढ़ाने वाले तत्व शरीर को गर्म रखने में मदद कर सकते हैं, जिससे सर्दी और ठंड में रहना आसान होता है।
  • चाय में प्रयुक्त किए जाने वाले पोषक तत्व शरीर को ठंड से बचाने और बुखार से लड़ने में मदद कर सकते हैं।
  • चाय में मौजूद पोषक तत्व और एंटीऑक्सिडेंट्स इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद कर सकते हैं, जिससे आपका शरीर संक्रमणों के खिलाफ अधिक प्रतिरोधी बनता है।
  • चाय में मौजूद जीरा पाउडर और धनिया के बीज पाचन को सुधारने में मदद कर सकते हैं और अच्छी डाइजेशन प्रदान कर सकते हैं।
  • यह चाय गैस, एसिडिटी और पेट संबंधी अन्य समस्याओं को शांत करने में मदद कर सकती है।
  • इस चाय में मौजूद अदरक के गुण खांसी, साइनस जलन और कंजेशन से राहत प्रदान कर सकते हैं।

(Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। MP Breaking News किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें।)


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News